ग्राम पंचायतों में तैयार किए जाएंगे ग्राम मित्र एनजीओ करेंगे स्वच्छता परिसरों का संचालन एवं संधारण : पंचायत मंत्री श्री सिसोदिया

Scn news india

हर्षिता वंत्रप 

भोपाल-पंचायत एवं ग्रामीण विकास मंत्री श्री महेंद्र सिंह सिसोदिया ने कहा है कि पंचायतों में योजनाओं के बेहतर क्रियान्वयन के लिए प्रत्येक ग्राम पंचायत में 5 ग्राम मित्र तैयार किए जाएंगे। पंचायत स्तर पर नियुक्त रोजगार सहायकों की सेवायें अंशकालीन होने के कारण इनकी उपलब्धता एवं पंचायत स्तर पर योजना के क्रियान्वयन के बढ़ते दायित्व को देखते हुए ये ग्राम मित्र एक अतिरिक्त वैकल्पिक व्यवस्था के तौर पर तैयार किए जाएंगे।

मंत्री श्री सिसोदिया ने कहा कि पंचायतों में बने सार्वजनिक स्वच्छता परिसरों के संचालन एवं संधारण के लिए गैर सरकारी संगठनों (एनजीओ) की मदद ली जाएगी। इन परिसरों को एनजीओ को लीज पर दिए जाकर उनके माध्यम से संचालन कराया जायेगा। इससे पंचायतों को नियमित आय होगी। परिसरों के संचालन की समस्त जिम्मेदारी संबंधित संस्था या समूह की होगी।

मंत्री श्री सिसोदिया आज गुरुवार को मंत्रालय में मनरेगा संबंधी बैठक ले रहे थे। बैठक में रोजगार सहायकों के मानदेय में वृद्धि करने को लेकर भी चर्चा की गई।

बैठक में मनरेगा आयुक्त श्रीमती सोफिया फारूखी वली ने बताया कि ग्राम मित्रों को पंचायत स्तर पर किए जाने वाले कार्यों का प्रशिक्षण दिया जाएगा, जिससे वेविभिन्न शासकीय योजनाओं के क्रियान्वयन एवं विकास कार्यों में अपनी महत्वपूर्ण भूमिका निभा सकेंगे।

बैठक में स्वच्छ भारत मिशन की राज्य कार्यक्रम अधिकारी श्रीमती निधि निवेदिता ने बताया कि प्रदेश में वित्तीय वर्ष 2020-21 और 21-22 में 15207 सार्वजनिक स्वच्छता परिसर स्वीकृत हुए। इनमें से 9431 परिसर तैयार किए जा चुके हैं। तैयार परिसरों में से 6510 का संचालन ग्राम पंचायतों, 1520 का स्व सहायता समूहों एवं 1401 परिसरों का संचालन अन्य माध्यमों के द्वारा किया जा रहा है।