मध्यप्रदेश में ठिठुरन भरी ठण्ड का दूसरा दौर 17 से , सीजन में पहली बार तापमान 5.4 रिकार्ड, 15 से बूंदाबांदी के आसार

Scn news india
मनोहर
ग्वालियर में सर्दी का टार्चर बढ़ता जा रहा है। सीजन में पहली बार न्यूनतम तापमान 5.4 डिसे रिकार्ड हुआ है। प्रदेश में ग्वालियर सबसे ठंडा रहा है। जम्मू-कश्मीर से आ रही ठंडी बर्फीली हवाओं के कारण दिन भर ठिठुरन का अहसास सताता रहा। सुबह के समय ठंड से हाथ सुन्न हो रहे थे। सूर्य अस्त के बाद कंपकपी और बढ़ गई। प्रदेश में शहर की रात सबसे ज्यादा ठंडी रही। मौसम विभाग के अनुसार रात में ठंड दो दिन और सताएगी। 14 दिसंबर से तापमान बढ़ना शुरू हो जाएगा। पश्चिमी विक्षोभ के कारण 15 दिसंबर से गरज-चमक के साथ बूंदाबांदी हो सकती है।
पिछले चार दिनों से उत्तरी हवा चल रही है। उत्तरी हवा के चलते रात में ठंड बढ़ी हुई है। ठंड के कारण रात में अलाव जलने लगे हैं। शनिवार को ठंड के चलते सुबह के समय भी अलाव जलाने पड़े। रविवार की रात काफी सर्द रही, पारा लुढ़ककर 6 डिसे से नीचे पहुंच गया। जिससे रात में भी कंपकपी का अहसास हुआ।
ग्वालियर में तापमान 7.4 पर आया, पर रात में रही कंपाने वाली ठंड, प्रदेश में शहर की सबसे ठंडी रही रात
– जम्मू-कश्मीर में 13 से 14 दिसंबर के बीच पश्चिमी विक्षोभ सक्रिय होने वाला है। इस पश्चिमी विक्षोभ के असर से 14 दिसंबर से तापमान बढ़ना शुरू हो जाएगा। हवा का रुख पश्चिमी हो जाएगा। इससे तापमान बढ़ेगा, लेकिन 15 दिसंबर को बूंदाबांदी हो सकती है। बूंदाबांदी के कारण कोहरे की शुरुआत होगी।
– 17 दिसंबर से ठंड का दूसरा दौर आने वाला है, इस दाैरान कड़ाके की ठंड का सामना करना पड़ सकता है। दिन व रात में हाड़ कंपाने वाली ठंड की शुरुआत हो सकती है। शीतलहर के साथ शीतल दिन भी रह सकता है।
– 25 दिसंबर के आसपास कड़ाके की ठंड रह सकती है। कोहरे के कारण सूरज के दर्शन भी नहीं होंगे।