मिड डे मील खाने के बाद 33 बच्चों की तबियत बिगड़ी – दूषित भोजन था या पानी जाँच शुरू

Scn news india

ब्यूरो रिपोर्ट 

बैतूल – प्रभात पट्टन विकासखंड के वंडली स्कूल के पास 33 छात्राओं की मिड डे मील मध्यान्ह भोजन खाने के बाद से पेट दर्द की शिकायत होने से हड़कंप मच गया।   पेट दर्द की शिकायत के बाद छात्राओं को एंबुलेंस की मदद से अस्पताल पहुंचाया गया। फिलहाल सभी की हालत सामान्य है। अधिकारी मौके पर पहुंच रहे हैं।

बता दे की बच्चों को मिड डे मील में मंगलवार मीनू के अनुसार खीर-पूरी और आलू की सब्जी दी गई थी। घर जाने के बाद बच्चों ने पेट दर्द की शिकायत की और शाम होते-होते यह समस्या बढ़ गई। जिसकी सूचना एंबुलेंस को दी गई। जिसके बाद वंडली से बच्चों को प्रभात पट्टन सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पहुंचाया गया।

बताया  जा रहा है कि  स्कूल का भोजन संतोष स्व सहायता समूह द्वारा तैयार किया था। वहीँ समूह का बना खाना प्रायमरी और मिडिल दिनों स्कूलों  के बच्चों ने खाया था। लेकिन अब तक समस्या सिर्फ प्रायमरी के बच्चों को ही हुई है। जानकार बताते है कि यदि खाना दूषित होता तो समस्या दोनों स्कूलों के बच्चो को होती। आशंका जताई जा रही है कि प्रायमरी स्कूल में पानी की टंकी के पानी में समस्या की वजह से यह पाइजनिंग हुई होगी।

गौरतलब है कि शासन के आदेश के बाद दो दिनों पहले ही मध्यान भोजन (प्रधानमंत्री पोषण शक्ति निर्माण योजना) स्कूलों में प्रारम्भ किया गया है। ऐसे में कई दिनों से बंद स्कूलों में टंकी की सफाई की भी गई है या नहीं ये बड़ा सवाल है।