“यादे असद भोपाली” नाम से मुशायरा व सम्मान समारोह का किया आयोजन,फिल्म एक्टर सचिन ने भी समां बांधा

Scn news india

एड फैजान पटेल 

भोपाल – पॉलीटेक्निक चौराहे पर स्थित हिंदी भवन के महादेवी हॉल में “मध्यप्रदेश मुस्लिम विकास परिषद” ने “यादे असद भोपाली” नाम से मुशायरा वा सम्मान समारोह आयोजित किया । समारोह की अध्यक्षता बॉलीवुड के मशहूर “फिल्म एक्टर डायरेक्टर सचिन पिलगांवकर” ने की ।कार्यक्रम के मुख्य अतिथि हॉकी ओलंपियन पूर्व सांसद असलम शेर खान थे ।

कार्यक्रम में सचिन पिलगांवकर , कौसर सिद्दीकी , रूमी जाफरी , रशीद अंजुम , असलम शेर खान और हिशामुद्दीन फारूकी का सम्मान पुष्पगुच्छ दे कर , शाल उड़ा कर तथा प्रश्ति पत्र दे कर परिषद के प्रदेश अध्यक्ष मोहम्मद माहिर एड. , शमीम हयात , मोहम्मद अमीन , मोहम्मद ज़हीर , नसीम उद्दीन खान , मोहम्मद नसीम , एड. आकिल बशीर , एड. एस. एम. सलमान , इंजीनियर शफीक अहमद , जमील कुरेशी , गुलाम क़ादर , सैय्यद अशरफ , एड. मोहम्मद समीर , मोहम्मद साजिद , मोहम्मद माजिद , मोहम्मद शोएब , मुंबई से आए हुए सारिम खान , सूफी नागर साब , तबरेज खान , हरीश चंद्र वेद , संजु शर्मा , नाजमा खान , सूफिया अतहर आदि ने किया तथा इस कार्यक्रम का संचालन डॉक्टर आज़म खान ने किया

इस कार्यक्रम में सचिन पिलगांवकर ने अपना उर्दू में कलाम पेश किया जिसे वहां उपस्थित श्रोताओं ने खूब दाद दी ।

पूर्व ओलंपियन सांसद असलम शेर खान ने भी अपने खेल और फिल्म इंडस्ट्री से अपने यादगार रिश्तों के खूबसूरत लम्हों का भी बखूबी अंदाज में बयान किया जिसे सब ने खूब सराहा ।

अन्य वक्ताओं में रूमी जाफरी , हिशामुद्दीन फारूकी , रशीद अंजुम ने भी अपने अपने ख्यालात का इजहार किया ।

सचिन , रूमी जाफरी और असलम शेर खान को सुनने की चाह के कारण हुई वक्त की कमी की वजह से कुछ शायर ही अपना कलाम पेश कर सके ।

इस कार्यक्रम को उपस्थित जन समूह ने खूब सराहा और बड़ी तादाद में लोगों ने फिल्म अदाकार सचिन पिलगांवकर के साथ सेल्फी ली और फोटो भी खिंचवाए ।

सचिन ने तबीयत ठीक ना होने पर भी कार्यक्रम में पूरा समय दिया और लोगों से मुलाकात कर अपने आत्मीय वा व्यवहार कुशल व्यक्तित्व का परिचय दे कर उपस्थित जन समूह का दिल जीत लिया ।
फिल्म अदाकार सचिन और मशहूर ओ मारूफ मेहमानों की वजह से हॉल श्रोताओं से खचाखच भरा हुआ था ।

परिषद के प्रदेश अध्यक्ष मोहम्मद माहिर एड. ने कार्यक्रम के अंत में आए हुए मेहमानों और श्रोताओं का शुक्रिया अदा करते हुए कहा की परिषद आइंदा भी ऐसे ही सांस्कृतिक कार्यक्रम आयोजित करती रहेगी ।

मुशायरा वा सम्मान समारोह कार्यक्रम की समाप्ति के बाद इस प्रोग्राम में आए हुए श्रोताओं ने परिषद के इस बेहतरीन प्रयास की खूब सराहना की और कार्यक्रम की सफलता को सराहा !

Live Web           TV