गरीब परिवारों को कोरोना के दुष्प्रभावों से उबरने में मदद देगा मोदी सरकार का निर्णयः विष्णुदत्त शर्मा*

Scn news india

हर्षिता वंत्रप 

गरीब परिवारों को कोरोना के दुष्प्रभावों से उबरने में मदद देगा मोदी सरकार का निर्णयः विष्णुदत्त शर्मा*
*प्रदेश अध्यक्ष ने गरीब कल्याण अन्न योजना की अवधि बढ़ाने पर जताया प्रधानमंत्री जी के प्रति आभार*

भोपाल। समाज के अंतिम पायदान पर मौजूद व्यक्ति, प्रत्येक समाज और वर्गों के गरीब परिवार मोदी सरकार की प्राथमिकता सूची में सबसे ऊपर रहे हैं। कोरोना संकट के दौरान प्रधानमंत्री श्री मोदी जी की सरकार ने देश के 80 करोड़ लोगों को मुफ्त राशन देने का दुनिया का सबसे बड़ा और अनूठा अभियान चलाया था। अब केंद्र सरकार ने इस योजना की अवधि मार्च, 2022 तक बढ़ा दी है, जिससे गरीब परिवारों को कोरोना के कारण पैदा हुई समस्याओं से उबरने में मदद मिलेगी। इस निर्णय के लिए मैं प्रधानमंत्री श्री मोदी तथा केंद्र सरकार के प्रति आभार व्यक्त् करता हूं। यह बात भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष व सांसद श्री विष्णुदत्त शर्मा ने प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना की अवधि बढ़ाए जाने पर प्रसन्नता व्यक्त करते हुए कही।
प्रदेश अध्यक्ष श्री विष्णुदत्त शर्मा ने कहा कि कोरोना संकट के दौरान देश के गरीब परिवारों, छोटे कारोबारियों, मजदूरों की समस्याओं को महसूस करते हुए प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी ने गरीब कल्याण अन्न योजना शुरू की थी, जिसने अत्यंत कठिन समय में इन परिवारों की सहायता की। केंद्र सरकार की इस योजना के अंतर्गत देश के 80 करोड़ गरीबों को नवंबर माह तक मुफ्त राशन उपलब्ध कराया था। लेकिन इन परिवारों की स्थिति और कोरोना के आघातों को देखते हुए केंद्रीय मंत्रिमंडल ने इस योजना की अवधि को मार्च, 2022 तक बढ़ा दिया है। केंद्र सरकार के इस निर्णय से गरीब परिवारों को मार्च, 2022 तक मुफ्त राशन मिलेगा, जिससे उन्हें कोरोना के दुष्प्रभावों का पूरी ताकत से मुकाबला करने का हौसला मिलेगा और ये परिवार अपना ध्यान काम-धंधे को जमाने पर केंद्रित कर सकेंगे।