भूपेश सरकार द्वारा पेट्रोल-डीजल पर वैट कम नहीं करने के विरोध में भाजपा का चक्काजाम

Scn news india

उजेन्द्र कुमार 

भूपेश सरकार द्वारा पेट्रोल-डीजल पर वैट कम नहीं करने के विरोध में भाजपा नेताओं ने बलौदाबाजार के अम्बेडकर चौक में 2 घण्टे चक्काजाम किया

बड़ी संख्या में भाजपा कार्यकर्ता और आमजन शामिल हुए

पेट्रोल डीजल पर लगने वाले वैट टैक्स में त्वरित कमी करें राज्य की कांग्रेस सरकार, अन्यथा जनहित में पूरे छत्तीसगढ़ प्रदेश में किया जाएगा चक्का जाम : शिवरतन

बलौदाबाजार।। केंद्र की मोदी सरकार द्वारा जनता को राहत प्रदान करते हुए पेट्रोल-डीजल पर एक्साइज ड्यूटी घटाई एवं प्रदेश की सरकारों से भी आग्रह किया कि राज्य में लगाये जाने वाले वैट टैक्स में कमी करके सहयोग प्रदान करें, जिसका अनेक प्रदेश की सरकारों ने स्वागत किया और वैट टैक्स घटाए परंतु छत्तीसगढ़ की कांग्रेस सरकार ने पेट्रोल-डीजल पर वैट टैक्स कम नही किया इसी विषय को लेकर भाजपा द्वारा जिला मुख्यालय बलौदाबाजार के अम्बेडकर चौक में 11 से 1 बजे तक सांकेतिक चक्का जाम कर वैट टैक्स में कमी करने की मांग को लेकर हठधर्मी भुपेश सरकार के खिलाफ प्रदर्शन किया और उपस्थित नेताओं एवं कार्यकर्ताओं ने यह चेतावनी दी की अगर राज्य की जनता को जल्द से जल्द राहत प्रदान नहीं कि जाती है तो इस चक्का जाम का वृहद विस्तार कर प्रदेश के हर सड़क को जनहित में बाधित कर उग्र आंदोलन किया जाएगा।

उक्त चक्का जाम में प्रमुख रूप से उपस्थित प्रदेश उपाध्यक्ष भाजपा व विधायक भाटापारा शिवरतन शर्मा ने कार्यकर्ताओं एवं नागरिकों को बताया कि केंद्र की मोदी सरकार ने जनता को राहत देते हुए इस मद के केंद्रीय राजस्व में घाटा सहते हुए एक्साइज ड्यूटी कम कर प्रतिलीटर पेट्रोल की कीमत में पांच रुपये और डीजल की कीमत में दस रुपये कमी कर आमजन को राहत देने का काम किया है। देश के कई राज्यों ने अपने-अपने क्षेत्र में पेट्रोल-डीजल पर लगने वाले वैट में कमी कर कीमत को और कम करने में सहयोग दिया है लेकिन छत्तीसगढ़ की कांग्रेस सरकार ऐसा करने से बचना चाहती है। राज्य सरकार जनता को भ्रामक जानकारी देते हुए केंद्र सरकार को कोसने में लगी है ताकि मूल मुद्दे से ध्यान भटकाया जा सके लेकिन भाजपा ऐसा नहीं होने देगी। वैट में कमी करने की मांग को लेकर पूरे प्रदेश में एक साथ एक ही दिन चक्काजाम करके दबाव बनाया गया। यह प्रतीकात्मक चक्का जाम एक चेतावनी है यदि इसके बाद भी प्रदेश सरकार वैट में कमी नही करती है तो सड़क से सदन तक लड़ाई लड़ी जाएगी। पूर्व विधायक व भाजपा जिलाध्यक्ष डॉ. सनम जांगड़े ने कहा कि पंजाब, राजस्थान की कांग्रेस सरकार ने वैट कम करके केंद्र सरकार के आह्वान का समर्थन किया है वहीं छत्तीसगढ़ में ऐसा क्यों नहीं किया जा रहा है यह समझ से परे है। उन्होंने प्रदेश सरकार पर आरोप लगाया कि लगभग तीन साल का कार्यकाल पूरा होने को है लेकिन सरकार ने कोई भी वादे पूरे नहीं किए हैं। बिजली बिल आधा करने जैसी अनेक घोषणाएं करके कांग्रेस सत्ता में आई है लेकिन बिजली बिल में छूट देने की बजाय हजारों रुपये का बिल उपभोक्ताओं को थमाकर झटका देने का काम सरकार कर रही है। शराबबंदी का वादा हो या फिर बेरोजगारी भत्ता देने अथवा सरकारी नौकरी देने की बात हो सरकार हर वादे पर फेल साबित हुई है।


चक्का जाम में उपस्थित कार्यकताओं एवं मौजूद नागरिकों को प्रदेश कार्यसमिति सदस्य भाजपा डॉ. अजय राव, सुरेंद्र टिकरिहा, टेसुलाल धुरंधर, अंजय शुक्ला, वरिष्ठ नेता गण ओमप्रकाश चंद्रवंशी, धनंजय साहू, तेजराम वर्मा, श्रीमती नीलम सोनी, राकेश तिवारी, कृष्णा अवस्थी, सुनील यदु, मनिंदर सिंह गुम्बर, डोमन वर्मा, रेवाराम साहू, आलोक अग्रवाल, निर्मला रजक, सरिता जायसवाल सहित अनेक नेताओं ने संबोधित किया। इस अवसर पर विशेष तौर पर नपा अध्यक्ष चित्तावर जायसवाल, जपं अध्यक्ष श्रीमती सुमन वर्मा, श्रीमती पूनम मार्कण्डेय, उमेश बाजपेयी, पूर्व नपा अध्यक्ष नंदकुमार साहू, आनंद यादव, श्रीमती सुलोचना यादव, श्रीमती सुनीता वर्मा, रितेश श्रीवास्तव, संकेत शुक्ला, विजय यादव, केजू बघेल, मणिकांत मिश्रा, हेमंत टिकरिहा, श्रीमती सत्यभामा साहू, रामकुमार साहू, पुरुषोत्तम साहू, चंद्रमणि तिवारी, दिनेश बाजपेयी, रोमी साहू, संजय श्रीवास, पवन साहू, श्रीमती सविता साहू, श्रीमती रीटा केशरवानी, पुरुषोत्तम सोनी, प्रशांत यादव, प्रणम्य पांडेय, रवि वर्मा, प्रह्लाद साय, प्रणव अवस्थी, वासु ठाकुर, अजय गर्ग, शिवशंकर अग्रवाल, पोषण पटेल, हरीश साहू, प्रहलाद साय, राजू बंजारे, भीम कन्नौजे, प्रदीप साहू, राजू सलूजा, योगी वर्मा, श्रीमती संतोष शर्मा, अशोक सोनी, पूनेश्वर साहू, कामेश वर्मा, राजकुमार बंजारे, बालाराम विश्वकर्मा, आकाश जायसवाल सहित जिले से आये समस्त भाजपा नेता, पदाधिकारी एवं कार्यकर्ता मौजूद रहे।