सीधी भर्ती पर रोक और वर्तमान कार्यरत विनियमित एवं दैनिक वेतन भोगी कर्मचारियों को नियमित की मांग -सौंपा ज्ञापन

Scn news india

मनोहर

सारनी -नगर पालिका परिषद सारणी के नगर पालिका नगर पंचायत मजदूर संघ के जिला पदाधिकारी एवं इकाई पदाधिकारियों के माध्यम से नगरपालिका परिषद सारणी के मुख्य अधिकारी सी के मेश्राम के द्वारा नगरी प्रशासन मंत्री माननीय भूपेंद्र सिंह जी के नाम से नगर पालिका में निकली सीधी भर्ती को निरस्त करने के लिए मजदूर संघ के जिला अध्यक्ष के के भावसर एवं जिला महामंत्री हरिओम कुशवाहा के नेतृत्व में ज्ञापन सौंपा गया।नगर पालिका परिषद सारणी मजदूर संघ के अध्यक्ष ललित सोना ने कहा कि 2007 के पूर्व के विनियमित कर्मचारियों को एवं 2007 के बाद के दैनिक वेतन भोगी कर्मचारियों को सरकार अपने तत्काल प्रभाव से आदेश कर नियमित करना चाहिए। नगर पालिका परिषद सारणी के नगर पालिका नगर पंचायत मजदूर संघ के महामंत्री निराकार सागर का कहना है कि 2007 के पूर्व के भी विनियमित कर्मचारी एवं 2007 के बाद से वर्तमान तक के सभी विभागों में कार्यरत दैनिक वेतन भोगी एवं अन्य कर्मचारियों ने सरकार के आदेश अनुसार स्वच्छता अभियान और कोविड-19 जैसे जानलेवा खतरनाक बीमारी के भीषण काल में निष्ठा एवं ईमानदारी से कार्य क्या है। और अभी वर्तमान प्रदेश की जनता को घर घर तक पहुंच कर वैक्सीन लगाने का भी कार्य किया जा रहा है।इन कर्मचारियों की कार्यशैली को देखते हुए वर्तमान नगर पालिका नगर निगम में तृतीय एवं चतुर्थ श्रेणी की सीधी भर्ती को निरस्त करते हुए। पहली प्राथमिकता वर्तमान में कार्यरत विनियमित कर्मचारी एवं 2007 के बाद से आज दिनांक तक के कर्मचारियों को सहानुभूति पूर्वक विचार कर नियमित किया जाए। तत्पश्चात ही सीधी भर्ती के आदेश जारी किया जाना चाहिएे। कार्यालय में ज्ञापन सौंपने वाले पद अधिकारी एवं सदस्यगण, ललित सोना, रंजीत डोंगरे, निराकार सागर, सुखदेव भोरपी, सिरपथ काटोलकर, रामकरण पथरोड, सतपाल सोनी, विनोद परिहार, लक्ष्मण पंडाग्रे, संदीप डोंगरे, श्याम सोनी, मुकेश नागले, अनुराग सहगल, राम अवतार नागले, अनिल सहारे, योगेश धोटे, आदि कर्मचारी उपस्थित थे