युवा ग्रुप चिल्कापुर ने किया मिस बैतूल सुश्री नीतू दवन्डे सहित कई प्रतिभावों का सम्मान

Scn news india

धनराज साहू ब्यूरों

युवा ग्रुप चिल्कापुर ने किया मिस बैतूल सुश्री नीतू दवन्डे सहित कई प्रतिभावों का सम्मान

गीत व संगीत के माध्यम से कार्यक्रम में बांधा समां

हॉल ही में मिस- बैतूल का खिताब जितकर क्षेत्र का जिले में नाम रोशन करने वाली ग्राम बरहापुर निवासी पूर्व फौजी श्री दिवाकर राव दवन्ड़े की सुपुत्री मिस नीतू दवन्डे का “युवा ग्रुप चिल्कापुर” द्वारा एक सादे समारोह में गीत,गजलों व संगीत के साथ पुष्प वर्षा कर भव्य स्वागत किया गया। इसके पूर्व आयोजन समिति के बेहतरीन गायक सोहन साहू ने अपनी सुमधुर आवाज में “श्री गणेश वंदना” प्रस्तूत कर कार्यक्रम का आगाज किया।

गायक संजू कारे ने मिस बैतूल के सम्मान में बेहतर गीत प्रस्तूत किया जिसकी दर्शकों ने सराहना की। अपने जोरदार स्वागत सम्मान से अभिभूत मिस बैतूल ने आयोजन कर्ताओं का आभार जताया। मिस नीतू ने इस मुकाम तक पंहुचने के लिए उनके द्वारा की गई कड़ी मेहनत,लगन व तैयारियों के संबंध में मंच से अपने विचार साझा किए। उन्होंने अपनी सफलता का श्रेय अपने पेरेंट्स एवं कड़ी मेहनत को दिया। इस दौरान उपस्थित मातृशक्तियों व उनके समर्थकों ने उनके साथ सेल्फी साझा की। कार्यक्रम का बेहतर संचालन युवा पत्रकार धनराज साहू (अधिवक्ता) ने किया।

आयोजक “युवा ग्रुप” के प्रमुख सदस्यों सोहन साहू, अशोक अड़लक, श्यामकुमार गीद, ज्योतिष राने, रवि साहू, संजू कारे, संजय लोखंडे, रामकिशोर बावने, मिथलेश साहू, इन्द्रदेव गीद, वासु बारस्कर, अभिषेक गीद की टीम ने मिस बैतूल के साथ ही क्षेत्र की अन्य प्रतिभावों को भी सम्मानित किया। जिसमें इसी माह आर्मी से सेवानिवृत्त होकर लौटे नबापुर भैंसदेही के युवा फौजी संजय वागद्रे का जोरदार स्वागत सम्मान किया गया। देश सेवा के लिए आर्मी में अपनी बेहतर सेवाएं देने के लिए ग्राम वासियों ने श्री संजय वागद्रे की जोरदार प्रशंसा की। उनके सम्मान में गायक सोहन साहू ने देशभक्ति गीत हर करम अपना करेंगे… ये वतन तेरे लिए.. दिल दिया है जाँ भी देंगे ये वतन तेरे लिए… गीत प्रस्तूत कर कार्यक्रम में समां बांध दिया। जिससे दर्शकगणों न भावविभोर होकर काफी प्रशंसा की। इस दौरान फौजी संजय वागद्रे ने भी मंच से अपने अनुभव साझा किए तथा अपने सम्मान के लिए आयोंजको का धन्यवाद अदा किया। आयोंजन टीम द्वारा पूर्व फौजी श्री दिवाकर राव दवंडे का भी जोरदार स्वागत- सम्मान किया गया।


कार्यक्रम में हाल ही में गुदगांव से खेड़ी तक 40 कि.मी. का बेहतर रन- अप करने वाले ग्राम ठेमगांव निवासी युवा व होनहार रनर प्रहलाद डाहके के बेहतर प्रदर्शन पर प्रसन्नता व्यक्त करते हुए उनका जोरदार स्वागत किया गया जो कि ओलंपिक में अपना एक अच्छा स्थान भविष्य में प्राप्त कर क्षेत्र का नाम रोशन कर सकते हैं। आयोजक टीम ने उनके उज्जवल भविष्य की मंगल कामना की।


सम्मान कार्यक्रम में भैंसदेही के वरिष्ठ शिक्षक रवि धाड़से के सुपुत्र मास्टर आदित्य धाड़से ने अपनी मीठी व सुरीली आवाज के रंग बिखेरते हुए प्रसिद्ध गीत… लिखें जो खत् तुझे.. जो तेरी याद में.. हजारों रंग थे.. नजारें बन गए.. गीत प्रस्तूत कर सबका मन मोह लिया। जिसकी देर्शको ने खूब प्रशंसा की। छोटी सी उम्र के बेहतर गायक मास्टर आदित्य धाड़से का आयोजक टीम ने जोरदार स्वागत किया। आने वाले दिनों में नित नई ऊंचाइयों को छूकर अपनी मंजिल प्राप्त करने हेतु आदित्य को शुभकामनाएं दी। कार्यक्रम में संगीत प्रेमी श्रीपति राने, बलराम धोटे, रामकुमार गीद व विशाल सोलंकी ने संगीत में विशेष सहयोग प्रदान किया। कार्यक्रम को सफल बनाने में धनराज साहू, अशोक अड़लक, सोहन साहू, श्याम कुमार गीद, संजय लोखंडे, संजू कारे, ज्योतिष राने, रवि साहू, रामकिशोर बावने, इंद्रदेव गीद,मिथलेश साहू, वासु बारस्कर,रमन साहू आदि का विशेष योगदान रहा।
कार्यक्रम के अंत में ग्राम के दिवंगतो को याद कर उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित की गई।