प्रदेश सरकार की अनूठी पहल “राग भोपाली” भोपाल में छुपे हुए टैलेंट को स्टेज पर आने का मिला मौका

Scn news india

हर्षिता वंत्रप

भोपाल -कार्तिक मास के शुक्ल पक्ष की द्वितीया तिथि भैया दूज पर हर बहन रोली एवं अक्षत से अपने भाई का तिलक कर उसके उज्ज्वल भविष्य के लिए आशीष देती हैं। इस पावन उपलक्ष्य पर स्व-सहायता समूह के काम को भोपाल वासियों तक पहुंचाने के लिए सरकार द्वारा शुरू किए गए एक अनूठे प्रयास  “राग भोपाली ”  10 नंबर मार्केट स्थल पर भाई दूज कार्यक्रम का आयोजन किया गया। जिसमें सभी भोपाल वासियों को आमंत्रित किया गया था।
जिला पंचायत सीईओ श्री विकास मिश्रा ने बताया कि  “राग भोपाली”  में भोपाल वासी एक जिला एक उत्पाद योजना के अंतर्गत जिले की सुंदर जरी, जरदौजी और जूट शिल्प के अनेक उत्पाद खरीद सकते है। सभी उत्पाद स्व सहायता समूह की महिलाओं द्वारा तैयार किये गये हैं, जो उनके हुनर और परिश्रम को दर्शाती है। कार्यक्रम में आगंतुकों के मनोरंजन के लिए open Air stage पर भोपाल के Urban talent को एक खुला मंच प्रदान किया गया है। शाम 5 से 8 बजे तक live music program का आयोजन भी किया गया । उन्होंने बताया कि जिले के अनेक प्रतिभाशाली गायक, guitarist और clap box players ने अपनी सुर लहरियों में सभी को बांधे रखा था।


सीईओ श्री मिश्रा ने बताया कि जहां कार्यक्रम का आगाज़ KG -2 की नन्ही प्रतिभाशाली छात्रा कुमारी दिवा ने राम भजन गाकर किया, वहीं कार्यक्रम ई-2 अरेरा कॉलोनी निवासी सीनियर सिटीजन महिला के गायन से समाप्त हुआ। उन्होंने बताया कि कार्यक्रम के मुख्य आयोजन में भोपाल की बहनों ने अपने भाइयों को स्टेज पर भाई दूज का तिलक किया। स्व-सहायता समूह की दीदीओ ने पूरे शहर के साथ स्टेज पर से अपनी भावानाओं और प्रेरणा को साझा किया।
सीईओ श्री मिश्रा ने बताया कि “राग भोपाली” मंच के द्वारा भोपाल में छुपे हुए टैलेंट को स्टेज पर आने का मौका मिला। उन्होंने बताया कि एक तरफ श्री अनुपम शर्मा ने अपने पत्नी के लिए अत्यंत सुंदर स्वरचित काव्य का मंचन किया और दूसरी तरफ अपनी बहन के साथ भाई दूज मानने पहुंचे नमन ने खूबसूरत हिंदी गाने गाए।
सीईओ श्री मिश्रा ने भी स्टेज पर पिता और अपने परिवार के खूबसूरत रिश्ते को कविता के रूप में स्टेज पर प्रस्तुत किया। स्टेज से ठीक नीचे दीदी कैफे में चाट और अन्य व्यंजनों का स्वाद लेते हुए भोपाल वासियों ने कार्यक्रम का आनंद लिया।