वैष्णवी स्व सहायता समूह की महिलाएं बनाएंगीं फ्लाईऐश से ब्रिक्स, कलेक्टर किया शुभारंभ

Scn news india

अल्केश साहू ब्यूरो 

बैतूल -जिले में मध्यप्रदेश डे-राज्य ग्रामीण आजीविका मिशन के अंतर्गत गठित स्व सहायता समूह आत्मनिर्भरता की ओर अग्रसर हैं। बैतूल के नजदीकी ग्राम साकादेही में गठित वैष्णवी स्व सहायता समूह की 12 महिलाओं ने आत्मनिर्भरता की ओर कदम बढ़ाए। अब वे फ्लाईऐश से ईंट निर्माण करेंगीं। स्व सहायता समूह द्वारा निर्माण की गई ईंटें प्रचलित दर पर किफायती दरों पर विक्रय की जाएगी। कलेक्टर श्री अमनबीर सिंह बैंस एवं मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री अभिलाष मिश्रा ने गत दिवस इस ब्रिक्स निर्माण इकाई का शुभारंभ किया एवं स्व सहायता समूह की महिलाओं से ईंट निर्माण प्रक्रिया की जानकारी प्राप्त की।
उक्त ईंट निर्माण इकाई स्व सहायता समूह की 12 महिलाओं द्वारा संचालित की जाएगी। समूह ने उक्त कार्य के लिए एक लाख 45 हजार रूपए व्यय किया है। जिसमें उनके द्वारा मशीन के साथ-साथ कच्ची सामग्री भी खरीदी गई है। समूह द्वारा स्थापित की गई ब्रिक्स मशीन एक बार में 4 ब्रिक्स का निर्माण करती है एवं एक दिन में लगभग दो हजार ईंट तैयार करती है। ईंट बनाने में उपयोग आने वाली फ्लाईऐश मुफ्त में जिले के सतपुड़ा थर्मल पावर स्टेशन से मिलती है। फ्लाईऐश के परिवहन में लगने वाला व्यय समूह को व्यय करना होगा। समूह द्वारा 3.48 रूपए प्रति ईंट के मान से ईंटों का विक्रय किया जा रहा है जबकि प्रचलित दर 4 रूपए प्रति ईंट है। भविष्य में इनके द्वारा निर्मित ईंटों को प्रधानमंत्री आवास एवं अन्य शासकीय भवनों के निर्माण में प्रदाय किया जाना प्रस्तावित है, जिससे समूह की महिलाओं की आय में वृद्धि होगी।

आठ स्व सहायता समूहों को एक-एक लाख की सीसी लिमिट का वितरण

कलेक्टर श्री अमनबीर सिंह बैंस एवं सीईओ जिला पंचायत श्री अभिलाष मिश्रा द्वारा ईंट निर्माण इकाई के अवलोकन के उपरांत सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया गंज शाखा के माध्यम से आठ स्व सहायता समूहों को एक-एक लाख रूपए की सीसी लिमिट का वितरण किया गया। जिन स्वसहायता समूहों को यह सीसी लिमिट प्रदान की गई उनमें गंगा स्व सहायता समूह सिल्लौट, शिवानी स्व सहायता समूह बडग़ी, शारदा स्व सहायता समूह धौल, जय मां दुर्गा स्व सहायता समूह साकादेही, सरस्वती स्व सहायता समूह ठानी, सरस्वती स्व सहायता समूह बांसपानी, बीजासेन स्व सहायता समूह बांसपानी एवं चांदनी स्व सहायता समूह बांसपानी शामिल हैं।

Live Web           TV