त्रिपुरा में हुई साम्प्रदायिक घटना देश की एकता अखंडता के लिए खतरा

Scn news india


त्रिपुरा राज्य में पिछले दिनों ग्रामीण एवं शहरी क्षेत्रों में साम्प्रदायिक घटनायें दंगे आगजनी विभिन्न संगठनों द्वारा सुनियोजित षड्यंत्र कर करवायें गये हैं उक्त संगठनों द्वारा दंगाइयों को संरक्षण दिया जा रहा है दंगाइयों द्वारा मुस्लिम समुदाय के प्रार्थना स्थलों को टार्गेट कर मस्जिद मदरसों पर आगजनी वह हमला कर छति पहुंचाई जा रही है निर्दोष मुसलमानों के घरों एवं दुकानों को निशाना बनाया जाकर आग लगाई जा रही है इतना ही नहीं पुरे त्रिपुरा राज्य के शहरी, ग्रामीण क्षेत्रों में साम्प्रदायिक संगठनों द्वारा आपत्तिजनक नारे लगाये जा रहे हैं उक्त कथित धार्मिक संगठनों भीड़ द्वारा इस देश में धर्मनिरपेक्ष तानेबाने को तोड़ने का काम किया जा रहा है तथा आपस में डलवाया जा रहा है जिसे हमारे देश की गंगा जमुनी तहज़ीब खतरे में आ गई हैं
एड राकेश महाले ने प्रेस विज्ञप्ति जारी कर कहा कि हमारे देश का सविंधान धर्म निरपेक्ष मूल्यों पर आधारित धर्मनिरपेक्ष भारत का सविंधान है भारतीय संस्कृति देश में अनेकता में एकता गंगा जमुनी तहज़ीब का प्रतिनिधित्व करती हैं हिन्दू मुस्लिम सिख ईसाई आपस में सब भाई भाई हमारी कौमी एकता है । सभी धर्मों जातियों ने मिलकर इस देश का निर्माण किया है लेकिन देश के साम्प्रदायिक संगठनों द्वारा सुनियोजित षड्यंत्र कर सांझी संस्कृति सांझी विरासत धुमिल किया जा रहा है जिसे हमारा लोकतंत्र ख़तरे मे आ गया है।