पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी जी के बलिदान दिवस के अवसर पर स्मृति कार्यक्रम का आयोजन

Scn news india

कटनी -मध्यप्रदेश कांग्रेस कमेटी के प्रदेशाध्यक्ष, पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ जी के निर्देशानुसार जिला शहर कांग्रेस कमेटी कटनी द्वारा अध्यक्ष मिथलेश जैन एडवोकेट व गुमान सिंह की अध्यक्षता में पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी जी के बलिदान दिवस के अवसर पर स्मृति कार्यक्रम का आयोजन किया गया।
उपस्थित कांग्रेसजनों ने इंदिरा जी के चित्र पर माल्यार्पण कर उनका पुण्य स्मरण कर शोक श्रद्धांजलि अर्पित की।
मिथलेश जैन ने इंदिरा गांधी जी के विषय में विचार व्यक्त करते हुए कहा कि आधुनिक भारत के निर्माण में और भारत को विश्व शक्ति बनाने में इंदिरा जी का महत्वपूर्ण योगदान था। इंदिरा गांधी जी द्वारा किए गए कार्यों का परिणाम यह है कि आज उनके बलिदान दिवस के अवसर पर सम्पूर्ण भारत देश में उन्हें याद किया जा रहा है।इंदिरा गांधी जी को उनके द्वारा किए गए कार्यों व मजबूत नेतृत्व के कारण आयरन लेडी कहा जाता था।


जिला ग्रामीण कांग्रेस कमेटी के जिलाध्यक्ष गुमान सिंह ने विचार व्यक्त करते हुए कहा कि आजादी के पूर्व से लेकर आजादी के बाद तक भारत देश के पुनर्निर्माण में इंदिरा जी ने अपना सर्वस्व न्योछावर कर दिया। आंतरिक सुरक्षा विभाग की जानकारी के बाद भी उन्होंने देश के विकास में अपने प्राणों की परवाह ना करते हुए आतंकवाद के खिलाफ अपनी लड़ाई जारी रखी। उन्होंने अपनी अंतिम सभा में भाषण में कहा कि मेरे खून का एक एक कतरा देश के निर्माण में काम आएगा।उन्होंने बताया कि देश में सुई से लेकर हवाई जहाज के निर्माण, स्कूल से लेकर बड़े बड़े मेडिकल व इंजीनियरिंग कॉलेज की स्थापना, नहर से लेकर बड़े बड़े बांधों का निर्माण कांग्रेस ने किया है।


मध्यप्रदेश शिक्षा व शिक्षक प्रकोष्ठ कांग्रेस के प्रदेशाध्यक्ष रामनरेश त्रिपाठी ने कहा कि इंदिरा जी ने दुग्ध क्रांति, हरित क्रांति सहित अनेकों योजनाएं लाकर भारत को प्रगतिशील देशों में प्रथम पंक्ति में लाकर खड़ा कर दिया। इंदिरा गांधी देश की ही नही विश्व की नेता थी औऱ अंतरराष्ट्रीय स्तर पर नेतृत्व करती थी।
पूर्व शहर कांग्रेस अध्यक्ष करन सिंह चौहान ने कहा कि देश ही नही विश्व के इतिहास में सर्वाधिक लोकप्रिय महिला के रूप में इंदिरा जी को याद किया जाता है। इंदिरा गांधी जी ने आतंकवाद के खिलाफ लड़ते हुए अपने प्राण तक न्यौछावर कर दिए थे लेकिन दुर्भाग्य का विषय है कि आज की सरकार इतिहास को बदल देना चाहती है क्योंकि उनका इतिहास में कोई योगदान नही है।
राकेश जैन कक्का ने कहा कि इंदिरा गांधी जी की कुशल नेतृत्व क्षमता के कारण विपक्ष के नेता ने उन्हें दुर्गा का अवतार कहा था और उन्होंने उसके अनुरूप कार्य करते हुए पाकिस्तान की सेना को आत्मसमर्पण के लिए मजबूर कर दिया था।

अमित शुक्ला एडवोकेट ने अपने सम्बोधन में कहा कि इंदिरा जी ने अपने बाल्यकाल में ही वानरसेना का गठन कर स्वतंत्ता संग्राम में अपना योगदान दिया और आजादी के पश्चात देश की प्रथम महिला प्रधानमंत्री के रूप में बैंकों के राष्ट्रीयकरण सहित अनेकों महत्वपूर्ण कार्य किये।
वरिष्ठ कांग्रेस नेता शिवकुमार यादव ने भी सम्बोधित करते हुए कहा कि इंदिरा गांधी की सरकार ने बैंकों के राष्ट्रीयकरण, दुग्ध क्रांति, मजबूत सैन्य शक्ति, जनसंख्या नियंत्रण, हरित क्रांति जैसे महत्वपूर्ण निर्णय लेकर राष्ट्रनिर्माण में अपना योगदान दिया।
मनोज गुप्ता एडवोकेट ने कहा कि इंदिरा गांधी जी की कुशल नेतृत्व क्षमता का ही परिणाम था कि उन्होंने पाकिस्तान के दो टुकड़े करते हुए एक नए राष्ट्र बांग्लादेश का निर्माण कर डाला था।
जिला कांग्रेस सेवादल के जिलाध्यक्ष पंकज गौतम, कांग्रेस के समाज कल्याण प्रकोष्ठ के अध्यक्ष शेखर भारद्वाज, अनुसूचित जाति प्रकोष्ठ के अध्यक्ष ओमप्रकाश सकतेल, राजकिशोर यादव राकेश द्विवेदी गुड्डू इश्तियाक अहमद कमलेश यादव ने भी अपने विचार व्यक्त किये।
कार्यक्रम में जिला महामंत्री आफताब अहमद, उपाध्यक्ष अजय कछवाहा, शोभा मंगलानी, रुकमणी पाण्डेय, मुन्ना लाल कुशवाहा, सुनील सेन,अमित गर्ग, सुशील साहू, अभिषेक बर्मन, आकाश पवार, जय दाहिया, रजत यादव, राहुल सिंह, सचिन कोरी सहित भारी संख्या में कांग्रेसजनों की उपस्थिति रही।