यूनियन नेता पर खाते से 85 लाख रुपये निकालने का आरोप

Scn news india

रोहित नैय्यर ब्यूरो 

रेल मंडल का सबसे बड़े संघ wcrms के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष आरपी भटनागर के अध्यक्ष पद को लेकर wcrms के श्रमिक नेताओ द्वारा लंबे समय से खींचतान चल रही है जिसको लेकर श्रमिक नेताओ द्वारा रास्ट्रीय अध्यक्ष के ऊपर आरोप लगाए,,वही wcrms के पूर्व रास्ट्रीय अध्यक्ष ने wcrms पर गंभीर आरोप लगाते हुए पत्रकारवार्ता का आयोजन करते हुए बताया कि wcrms संघ के कुछ नेताओं द्वारा मनमानी करते हुए अचानक बिना बताए मीटिंग करते हुए wcrms के सदस्यो को रुपियो का लेंनदेंन कर उन्हें रास्ट्रीय अध्यक्ष के पद से हटाने के लिए सडयंत्र रचा गया,,wcrms के नेता अशोक शर्मा द्वारा wcrms यूनियन के खाते से 85 लाख रुपये निकाले गए ,,जब इस संबंध में उनसे जानकारी ली गयी तो उन्होंने साजिश के तहत रुपियो की लालच देकर wcrms वर्कर्स को अपने साथ मिला कर उन्हें पद से हटाने की मांग करने लगे जबकि बिना रास्ट्रीय अध्यक्ष को बताए कोई भी मीटिंग आयोजित नही की जाती,,बावजूद इसके चोरी छिपे ये मीटिंग की गई,,wcrms के अशोक शर्मा व अन्य श्रमिक नेता भ्रस्टाचार में लिप्त है जिसको लेकर उन्होंने सवाल उठाए थे,,इसलिए उनके खिलाफ ये षड्यंत्र किया जा रहा है इसलिए अपने पद से इस्तीफा देते हुवे कानूनी तौर पर इनके खिलाफ कोर्ट जाएंगे और इनके विरुद्ध भ्रस्टाचार का केस दायर किया जाएगा।

आरपी भटनागर–पूर्व रास्ट्रीय अध्यक्ष

Live Web           TV