42वे वर्ष में माता वैष्णो देवी दर्शन के लिए इटारसी से रवाना जत्था

scn news india

मनीष मालवीय जिला ब्यूरो 

होशंगाबाद इटारसी //जम्मू-कश्मीर के रियासी जिले में त्रिकुटा पहाड़ियों पर स्थित वैष्णो देवी मंदिर में इस साल आने वाले श्रद्धालुओं की संख्या के 85 लाख के पार जाने की उम्मीद है,जो कि पिछले पांच साल में सबसे अधिक होगा।
14 जुलाई को 42वें वर्ष में झेलम एक्सप्रेस से 400 श्रद्धालुओं का जत्था माता वैष्णो देवी के दर्शन के लिए रवाना । ट्रेन रवाना होने के पहले श्रद्धालु जयस्तंभ चौक स्थित दुर्गा मंदिर से माता का दरबार और ज्योती लेकर ढोल-बाजे के साथ स्टेशन पहुचें। जत्था ले जाने वाले बतरा जी ने बताया 400 श्रद्धालुओं का रिजर्वेशन कराया हैं। इस बार होशंगाबाद विधायक डॉ. सीता शरण शर्मा भी यात्रा के साथ माता वैष्णो देवी के दर्शन के लिए जा रहे हैं।

 

5 लोगों ने शुरू की थी यात्रा 

1977 में शहर के पांच लोग ग्रुप के रूप में माता वैष्णो देवी के दर्शन के लिए गए थे। इसके बाद हर वर्ष वैष्णों देवी जाने का सिलसिला शुरू हुआ। हर साल यह संख्या बढ़ जा रही है। पहले वर्ष माता के दर्शन को जाने वाले सतीश बतरा ने बताया अन्नू गुप्ता, ब्रजमोहन सोनी, रमेश भार्गव और मालवीय जी के साथ मिलकर यात्रा की शुरुआत की थी। अब हर वर्ष जत्था लेकर आते हैं। 42 वर्ष से इटारसी से निरंतर यात्रा जारी है।

श्रद्धालुओं को यह रहती है सुविधा 

हर वर्ष झेलम एक्सप्रेस से जत्था रवाना होता है। ट्रेन में सवार होते ही बतरा परिवार श्रद्धालुओं के लिए सुबह का नास्ता, दोपहर का भोजन, रात का भोजन और अगले दिन सुबह के नाश्ते की व्यवस्था करता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!