स्कुल प्रबंधन की लापरवाही हो सकती है जानलेवा , बरसाती नाले पर अतिक्रमण ,बारिश में ढह सकता पर पिलर

scn news india

अभिषेक जैन  संभाग ब्यूरों 
दमोह – नगर से केवल 2 किलोमीटर दूरी बालाकोट रोड पर स्थित DPS विद्यालय में स्कुल प्रबंधन की घोर लापरवाही का नमूना सामने आया है।  जहाँ स्कुल प्रबंधन की लापरवाही कभी भी बड़े हादसे का रूप ले सकती है ,  इस स्कुल  में नन्हें मुन्ने बच्चे अध्ययन करते हैं। मामला दमोह नगर का है जहाँ नन्हे बच्चो के अध्ययन हेतु  नर्सरी से प्राथमिक  कक्षाएं संचालित की जाती है,  उक्त बिल्डिंग के पिछले हिस्से  में एक नाला है जिस पर पिल्लर तान स्कुल प्रबंधन द्वारा कमरे बनाये गए है। जो अतिक्रमण जैसा प्रतीत होता है। और जांच का विषय है।

स्कुल प्रबंधन द्वारा  बरसात के ठीक पहले नाले पर कब्जा करके केवल बेस-लैस पिलर खड़े किए गये हैं। बरसात में जल भराव होने की स्थिति में स्वाभाविक है कि मिट्टी धँसेगी और पिलर जलमग्न होकर कमजोर होंगे और बिल्डिंग सपोट के अभाव में धराशायी हो सकती है । जिनमे निर्माण सम्बंधित लापरवाही साफ तौर पर दिख रही है।

 

पिलर और दीवारों में दरारें आ गईं हैं, कई पत्थर भी दीवारों के निकलकर गिर गए हैं। यदि बरसात पहले नाले पर निर्माण कार्य का जायजा नहीं लिया गया तो गंभीर हादसाहोने के आसार है । क्योंकि जिस नाला के ऊपर पिलर बने  हैं, उसमें सारे खेतों से पानी एकत्रित होकर बहता है। ऐसा होने से एक मोटी तेज धार में पानी का बहाव होता है। बारिश में बहाव के कारण नाला की मिट्टी धंसेगी और पिलर जलमग्न होकर और कमजोर हो जाएंगे। ऐसे हालात में बिल्डिंग धराशायी होसकती है । जानकारी के मुताबिक स्कूल में करीब 150 बच्चे दर्ज हैं और 10 दिन के अंदर स्कूल चालू होने वाला है। जिला प्रशासन को चाहिए की उक्त निर्माण के गुणवत्ता और परिस्थिति  गंभीरता से जांच करे ताकि दुर्घटनाओं की संभावनाओं को टाला जा सके।

इनका कहना है
आपके द्वारा इस संबंध में अवगत कराया गया है जल्द ही जांच करवाता हूं इसके बाद कार्रवाई करूंगा!
रविंद्र चौकसे (एसडीएम दमोह)

इनका कहना है

अभी तक मुझे इस मामले की जानकारी नहीं है। मैं कल ही टीम भेजकर दिखवाता हूं।                                                                                                         जिला शिक्षा अधिकारी रवि बघेल

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!