शासकीय सेवकों को डाक मतपत्र की सुविधा से मताधिकार का प्रयोग करने की अपील

मोहिनी वर्मा 

धार -कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी श्री दीपक सिंह ने चुनाव में संलग्न शासकीय सेवकों व अन्य कार्मिकों के मतदान के लिए डाक मतपत्र की सुविधा से मताधिकार के प्रयोग की अपील की है। डाक मतपत्र की अवधि अब 26 नवम्बर तक।
निर्वाचन में किसी भी रूप में जिला प्रशासन में संलग्न अधिकारी, पुलिस जवान, वनकर्मी वाहन चालक, हैल्पर, वीडियो ग्राफर आदि कोई भी अपने मताधिकार से वंचित न रह सके इसके लिए संबंधित अधिकारियों को कलेक्टर दीपक सिंह ने प्रभावी कार्य पद्धति अंगीकार करने के निर्देश दिये हैं। फलस्वरूप जिले में निर्वाचन दायित्व में संलग्न लगभग 19 हजार शासकीय सेवको व अन्य कार्मिकों से मतदान के व्यक्तिगत अनुरोध हेतु सहकारिता निरीक्षकों के दल ने निरंतर व्यक्तिशः मोबाईल पर चर्चा द्वारा डाक मतपत्र के पात्रताधारी एक-एक व्यक्ति से अनुरोध करना शुरु किया है। इसी क्रम में जिला प्रशासन के निर्देश प्रत्येक डाक मतपत्र मतदाता को एस.एम.एस. प्रेषित कराए हैं जिसमें यह अपील की गई है कि मताधिकार का प्रयोग लोकतंत्र को मजबूत बनाता है, इस लिए अपने मताधिकार का अवश्य प्रयोग करें।
कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी श्री सिंह ने जिले में स्थित समस्त शासकीय, अर्द्धशासकीय कार्यालयों को पत्र द्वारा अनुरोध भी किया है कि अधिकारी स्वंय डाक मतपत्र की सुविधा में मतदान करें एवं अपने समस्त सहयोगी शासकीय सेवकों को भी इसके लिए अभिप्रेरित करें।
जिले की सात विधान सभाओं की वर्तमान स्थिति तक लगभग 7000 व्यक्तियों ने डाक मतपत्र के माध्यम से मतदान किया है।सर्वाधिक मतदान धार विधानसभा में हुआ है। जहाँ मतदाताओं में से अब तक 1710 मतदाताओं द्वारा मतदान किया है। धार नगर के इन्दौर रोड स्थित पी.जी. कॉलेज में समस्त सुविधाओं सहित मतदान केन्द्र संचालित है, जहाँ एस.डी.एम. श्री विरेन्द्र कटारे, स्वयं निरंतर उपस्थित रह कर प्रतीक्षारत् मतदाताओं को पीने के पानी एवं उनके बैठने की सुविधा सहित व्यवस्थित मतदान कराने में संलग्न रहे। इसी प्रकार अन्य विधान सभाओं के रिटर्निंग अधिकारीगण स्वयं इन व्यवस्थाओं का व्यक्तिशः पर्यवेक्षण कर रहे हैं।
प्रशासनिक अधिकारियों ने इस बिंदु पर सर्वाधिक ध्यान केन्द्रित किया है कि किसी भी मतदाता को कागजी प्रक्रिया में कठिनाई न हो और उनकी सहायता के लिए ड्यूटी पर संलग्न कर्मचारी पूरी सजगता व तत्परता से उन्हें सहयोग करें।
इसी प्रकार जिले में पदस्थ ऐसे कर्मचारियों विशेषकर पुलिस बल के सदस्य जिन्हे निर्वाचन दायित्व हेतु अन्य जिलों में भेजा गया है उन्हें पोस्टल व्यवस्था द्वारा लगातार समन्वयन कर डाक मतपत्र निर्धारित प्रक्रिया में भेजे जा रहें हैं।
आज निर्वाचन कार्यो की प्रगति समीक्षा में कलेक्टर दीपक सिंह ने निर्देश दिए है कि जिन विधान सभाओं में डाक मतपत्र की अवधि 24 नवम्बर तक सीमित कर दी थी, उसमें वृद्धि कर उसे 26 नवम्बर तक किया जाए। निश्चय ही यह एक सार्थक पहल है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!