ब्रह्मा कुमारीज रोहित नगर सेवा केंद्र पर आध्यात्मिक होली मिलन कार्यक्रम

scn news india

मनोहर

भोपाल – होली के पावन पर्व पर ब्रह्मा कुमारीज रोहित नगर सेवा केंद्र पर आध्यात्मिक होली मिलन कार्यक्रम रखा गया । इस अवसर पर सेवा केंद्र प्रभारी बी .के .डॉ रीना बहन ने होली का आध्यात्मिक रहस्य बताते हुए कहा होली अर्थात रंगों से भरा त्योहार है। इस वर्ष होली के हर रंग से हम एक शिक्षा लें कि हमें अपने और दूसरों के जीवन को भी इन रंगों से भरकर रंगीन और खुशहाल बनाना है। होली का हर रंग एक-एक गुण का प्रतीक है…..

हरा – स्नेह
लाल – शक्ति
आसमानी रंग – शांति
नीला – दया/रहम
गुलाबी – एकता
पीला – खुशी आदि आदि

उन्होंने बताया कि परमात्मा ने हम सभी अमूल्य रत्नों के जीवन को ईश्वरीय संग के रंग में और सुख, शांति, पवित्रता, शक्ति के रंगों से भरकर हमें सर्व प्राप्ति सम्पन्न बना दिया है…और अब इन्हीं परमात्म प्राप्तियों के रंग से अपने सभी आत्मा भाइयों के जीवन को भी रंगीन बनाना हमारा परम कर्तव्य बनता है…तो आइए आज इस रंग में रंगकर अनेकों के जीवन को दिव्य गुणों से रंगीन बनाएं….और होली के आध्यात्मिक भाव को गहराई से समझ कर होली को सद्भावना और स्नेह से मनाएं । उन्होंने बताया की इस होली पर सभी संकल्प ले कि प्रेम की पिचकारी से हर आत्मा के हृदय को प्रेम से भरपूर करना है।

बी.के.डॉ रीना बहन कहा की होली होली के वास्तव में तीन आध्यात्मिक रहस्य हैं –

हो ली…. बीती को बिंदी लगाना (सभी बीती बातों को व अपने मन के सभी ईर्ष्या व घृणा भाव को समाप्त कर आज सभी को रूहानी दृष्टि से देखें, मतभेद को खत्म करें)

होली….पवित्रता (पवित्र बन भारत को स्वर्ग बनाने की सेवा करें)

हो ली…. मैं आत्मा परमात्मा की हो ली…अर्थात परमात्मा की बन गई…

इसी आध्यात्मिक समझ के साथ हम सब होली के त्योहार का भरपूर आनंद लें। इस अवसर पर सैकड़ों भाई बहनों उपस्थित
हुए ओर सभी ने एक दूसरे को शुभकामनाएं देते हुए खुशहाल समाज की मंगल कामना की।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!