बाहरी व्यक्तियों की उपस्थिति व आवागमन प्रतिबंधित

scn news india
बैतूल,
कलेक्टर एवं जिला दण्डाधिकारी श्री शशांक मिश्र द्वारा जिले में स्वतंत्र, निष्पक्ष एवं शांतिपूर्ण रूप से विधानसभा निर्वचन 2018 सम्पन्न कराने की दृष्टि से दण्ड प्रक्रिया संहिता 1973 की धारा 144 के अंतर्गत प्रतिबंधित आदेश पारित करते हुए बैतूल जिले की समस्त विधानसभा निर्वाचन क्षेत्रों के अंतर्गत 26 नवंबर 2018 के सायं 5 बजे से 28 नवंबर 2018 को सायं 5 बजे तक सभी राजनीतिक व्यक्तियों/राजनैतिक दलों के कार्यकर्ता, समर्थक जो उस विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र के मतदाता नहीं है उन्हें विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र में उपस्थित रहने तथा क्षेत्र में आवागमन से प्रतिबंधित किया गया है।
प्रतिबंधात्मक आदेश जारी
कलेक्टर एवं जिला दण्डाधिकारी श्री शशांक मिश्र ने एक अन्य आदेश में दण्ड प्रक्रिया संहिता 1973 की धारा 144 के तहत आदेश जारी कर बैतूल जिले की समस्त विधानसभा निर्वाचन क्षेत्रों के अंतर्गत 26 नवंबर 2018 के सायं 5 बजे से 28 नवंबर 2018 के सायंकाल 5 बजे तक उन सभी राजनैतिक व्यक्तियों, जिन्हें शासन की ओर से सुरक्षा उपलब्ध कराई गई है तथा जो विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र के मतदाता नहीं है, उन्हें विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र में उपस्थित रहने तथा आवागमन से प्रतिबंधित किया है। यह प्रतिबंध निर्वाचन के उम्मीदवारों तथा उनके एजेंट्स पर लागू नहीं होगा।
जारी आदेश में अधिकारियों से कहा गया है कि विधानसभा निर्वाचन क्षेत्रों के अंतर्गत स्थित समस्त कल्याण मंडल (मंगल भवन) सामुदायिक भवन आदि की सघन जांच करें, जहां व्यक्तियों को रखा गया हो या जहां बाहरी व्यक्तियों को रूकने के लिए स्थान उपलब्ध कराया गया हो। विधानसभा निर्वाचन क्षेत्रों के अंतर्गत होटल, लॉज, अतिथिगृह आदि की जांच करें एवं वहां ठहरने वाले व्यक्तियों को सूचीबद्ध करें। विधानसभा निर्वाचन क्षेत्रों के सीमावर्ती क्षेत्रों में जांच चौकियां स्थापित करने एवं बाहर से प्रवेश करने वाले समस्त प्रकार के वाहनों सहित नदी में परिवहन की नौकाओं आदि का प्रवेश व आवागमन निषिद्ध करें। जांच-पड़ताल में पाए गए ऐसे व्यक्तियों या व्यक्तियों के दल की पहचान स्थापित करें कि वे विधानसभा निर्वाचन क्षेत्रों के मतदाता है या नहीं।
जिला दण्डाधिकारी ने पाए गए प्रकरणों में विधि के प्रावधानों के अधीन तत्काल कार्रवाई करने के निर्देश दिए हैं। यह स्पष्ट किया गया है कि जन सामान्य तथा राजनैतिक दल के कार्यकर्ता जिन्हें यह आदेश निर्दिष्ट है, सूचना की तामीली सम्यक रूप से करने की गुंजाइश नहीं है, अत: यह आदेश एकपक्षीय रूप से पारित किया गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!