फसल ऋण माफी योजना आधार कार्ड से लिंक करवाने विकासखण्ड स्तर पर हेल्पडेस्क स्थापित

scn news india
बैतूल,
कलेक्टर श्री तरूण कुमार पिथोड़े ने कहा है कि फसल ऋण माफी योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए संबंधित ऋणी किसान आधार नंबर अपने बैंक खाते से आवश्यक रूप से लिंक करवाएं। कलेक्टर के निर्देश पर कृषि विभाग द्वारा किसानों की सहूलियत एवं उन्हें आवश्यक मार्गदर्शन देने के लिए प्रत्येक विकासखण्ड मुख्यालय पर वरिष्ठ कृषि विकास अधिकारी कार्यालय में हेल्पडेस्क स्थापित की गई है। जहां से ऋणी किसानों की कर्ज माफी योजना से संबंधित समस्याओं, जिज्ञासाओं एवं कठिनाइयों का निराकरण किया जाएगा।
उप संचालक कृषि श्री केएस खपेडिय़ा से प्राप्त जानकारी के अनुसार विकासखण्ड स्तरीय हेल्पडेस्क के प्रभारी अधिकारियों के नाम एवं टेलीफोन नंबर इस प्रकार हैं- विकासखण्ड मुलताई में हेल्पडेस्क के प्रभारी सहायक ग्रेड-3 श्री अंकित पटने होंगे, इनका मोबाइल नंबर 8602998860 एवं दूरभाष नंबर 07147-221415 है। इसी प्रकार विकासखण्ड भैंसदेही में हेल्पडेस्क प्रभारी सहायक ग्रेड-3 श्री ब्रजेश झाड़े (मो.नं.-7509361492, 07143-287742), विकासखण्ड आठनेर में हेल्पडेस्क प्रभारी सहायक ग्रेड-3 सुश्री लक्ष्मी पन्द्रे (मो.नं.-9407285817, 07144-286565), विकासखण्ड चिचोली में हेल्पडेस्क प्रभारी ग्रामीण कृषि विकास अधिकारी सुश्री सुशीला वर्मा (मो.नं.-7389808054, 07145-244115), विकासखण्ड भीमपुर में हेल्पडेस्क प्रभारी ग्रामीण कृषि विकास अधिकारी सुश्री सुकाली धुर्वे (मो.नं.-9424429954, 07142-247455), विकासखण्ड शाहपुर में हेल्पडेस्क प्रभारी सहायक ग्रेड-3 श्री जगदीश नुनहारिया (मो.नं.-9406784945, 07146-273494), विकासखण्ड घोड़ाडोंगरी में हेल्पडेस्क प्रभारी ग्रामीण कृषि विकास अधिकारी श्री हरिशंकर महोबिया (मो.नं.-9993644655, 07146-248293), विकासखण्ड बैतूल में हेल्पडेस्क प्रभारी सहायक ग्रेड-3 सुश्री अदिती पण्डागरे (मो.नं.-9407285373, 07141-230426), विकासखण्ड आमला में हेल्पडेस्क प्रभारी सहायक ग्रेड-3 सुश्री अभिलाषा वर्मा (मो.नं.-7024378130, 07147-285766) एवं विकासखण्ड प्रभातपट्टन में हेल्पडेस्क प्रभारी सहायक ग्रेड-3 श्री प्रवीण अतुलकर होंगे, इनका मोबाइल नंबर-9977796864 है।
श्री खपेडिय़ा ने बताया कि हेल्पडेस्क से किसानों को योजना की सही जानकारी देने, उनकी समस्याएं सुलझाने एवं उनकी जिज्ञासाओं के निवारण के लिए वरिष्ठ कृषि विकास अधिकारियों एवं हेल्पडेस्क प्रभारियों को प्रशिक्षित भी किया गया है। प्रशिक्षण में उपरोक्त कर्मचारियों को योजना के संबंध में विस्तृत मार्गदर्शन किसानों को उपलब्ध कराने के निर्देश दिए गए हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!