पाटन के छह पशुपालको को मिली 45 हजार की पुरुष्कार राशि विकासखंड स्तरीय गोपाल पुरुष्कार प्रतियोगिता का हुआ आयोजन

scn news india

नितिन दत्ता

तामिया – विकासखंड स्तरीय गोपाल पुरुष्कार प्रतियोगिता के आयोजन मे पाटन के छह पशुपालको को मिली 45 हजार की पुरुष्कार राशि मिली वही इस साल पाटन ग्वाली बस्ती के पशुपालको ने गाय भैंस की सभी श्रेणीयो मे दुग्ध उत्पादन मे रिकार्ड कायम कर सारे पुरुष्कार प्राप्त किये | स्थानीय पशु चिकित्सा विस्तार अधिकारी ने बताया कि तामिया मे विकासखंड स्तरीय गोपाल पुरुष्कार प्रतियोगिता एंव पुरुष्कार वितरण कार्यक्रम 10 जनवरी गुरुवार को शासकीय पशुचिकित्सालय में आयोजित किया गया कार्यक्रम का शुभारंभ ग्राम पंचायत तामिया के सरपंच अनिल भारती की अध्यक्षता कांग्रेस नेता कुरैश डेहरिया फिरोज खान भाजपा महिला नेत्री श्रीमति सुमंत्रा ठाकुर, पशु चिकित्सा विस्तार अधिकारी डॉ प्रियंका मर्सकोले, डॉ संजू कुमरे, डॉ गजेंद्र उइके, डॉ पंकज सिंह कुर्मी, पशु चिकित्सा क्षेत्राधिकारी सुरेंद्र परतेती की उपस्थिति में हुआ | कार्यक्रम मे ने गोपाल पुरुष्कार के तहत पशुपालको के गौवंश और भैस वंशीय पशुयो की दुग्ध उत्पादन क्षमता का तीन दिवस मे परिक्षण कर प्रक्रिया पूरी की| इस आयोजन में गौवंशीय श्रेणी में पाटन ढाना तामिया नर्मदालाल यदुवंशी की गाय द्वारा प्रतिदिन 3.97 किलो दुग्ध उत्पादन पर प्रथम पुरुष्कार राशि 10 हजार देवलाल यदुवंशी को दितीय पुरुषकार 7 हजार 500 तथा अर्जुनलाल यदुवंशी को तृतीय पुरुष्कार राशि पांच हजार एंव प्रशस्ति पत्र प्रदान किया गया | इसी तरह भैंस वंशीय पशुपालक परसराम यदुवंशी की मुर्रा भैंस को प्रतिदिन 5.61 किलो दूध उत्पादन पर प्रथम पुरुष्कार दस हजार की राशि मिली गौरतलब है कि परसराम यदुवंशी ने नरसिंगपुर से एक लाख की कीमत पर मुर्रा भैंस खरीदी थी | दितीय पुरुष्कार निरंजन यदुवंशी को साडे सात हजार एंव तृतीय पुरुष्कार ललित यदुवंशी को पांच हजार की राशि और प्रशस्ति पत्र प्रदान किया गया | | डॉ. संजू कुमरे ने बताया कि मध्यप्रदेश शासन पशुपालन विभाग द्वारा भारतीय मूल की गौवंशीय नस्लो के पालन एंव संरक्षण को बढावा देने तथा अधिक दुग्ध उत्पादन को प्रोत्साहित करने के लिये गोपाल पुरुष्कार योजना संचालित है इस योजना के तहत सर्वाधिक दुग्ध उत्पादन करने वाली भारतीय देसी नस्ल की गाय एंव भैंस के पशुपालको को पुरुष्कार दिया जाता है यह योजना पूरे मध्यप्रदेश में विकासखंड जिला एंव राज्य स्तर पर प्रतिवर्ष क्रियांवित की जाती है| कार्यक्रम में सरपंच अनिल भारती ने कहा कि तामिया के पाटन ढाना के ही पशुपालको ने गोपाल पुरुष्कार प्राप्त किये ये गौरव की बात है वही अन्य पशुपालक भी दुग्ध उत्पादन बढाकर आगे बढ सकते है

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!