पशु प्रेम की एक अनोखी मिसाल ,घोड़े की मौत से ,गाँव में पसरा मातम

scn news india

शैलेन्द्र सेन 

सागर- आज की मतलब भरी दुनिया में जहाँ अपने स्वार्थ के चलते इंसान इन्सान का दुश्मन हो जाता है वहां बेजुबान जानवर की बिसात  क्या , लेकिन सागर जिले के मालथौन तहसील में छोटे से ग्राम पिठौरिया में पशु प्रेम की एक अनोखी मिसाल सामने आई है , यहाँ सिर्फ एक परिवार  ही नहीं पुरे गाँव का एक बेजुबान की मौत पर रो रो कर बुरा हाल था । और उनका विलाप जिसने  भी देखा उसकी भी आँखे भर आई है।

मामला मालथौन तहसील में  अंतर्गत बांदरी के छोटे से ग्राम पिठौरिया का है जहाँ सुबह ख़लील खान के यहाँ  उनके पालतू घोड़े बादल की कुँए में गिरने से मौत हो गई , जिसे बड़ी मशक्कत के बाद जेसीबी के जरिये रस्सी बाँध कुँए  से निकला गया , किन्तु जब तक पानी में डूबने से उसकी मौत हो चुकी थी ,जैसे ही बादल को कुँए  से बाहर निकला गया , बच्चे फूट फूट कर रोने लगे जिन्हे देख परिवार की महिलाओं से भी आंसू नहीं रोके गए , वे भी रो पड़ी और उन्हें रोता  देख गाँव के लोग जो बादल से जुड़े हुए थे सभी रो पड़े।

खलील भाई ने बताया की बादल उनके परिवार का सदस्य की तरह था साथ ही उनकी रोजीरोटी भी था ऊँची नस्ल के साढ़े छै फिट कदकाठी के  बादल की शादियों में खासी डिमांड थी । सुबह चरने के लिए छोड़ा था , लेकिन बाद में कुंए में मिला , शायद पैर  फिसलने की वजह से गिर गया और उसकी मौत हो गई। बदल की मौत से गांव में मातम पसरा हुआ है।



Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!