पंचकल्याणक गजरथ महोत्सव के महापात्रो का हुआ चयन चंद्रकुमार सराफ सौधर्म इंद्र, अजय निरमा कुबेर, अभय बनगांव महायज्ञ नायक बने..

scn news india

Scn news india
अभिषेक जैन
दमोह। संत शिरोमणि परम पूज्य आचार्य श्री विद्यासागर जी महाराज के पावन आशीर्वाद से श्री दिगंबर जैन नशिया मंदिर की नवनिर्मित वेदियां एवं भव्य प्रतिभाओं की प्राण प्रतिष्ठा 11 से 17 जनवरी तक दमोह के तहसील ग्राउंड पर होने वाले श्री जिनेंद्र पंचकल्याणक महोत्सव में की जाएगी।

मंगलवार को महापात्र चयन के संगीतमय आयोजन में परम पूज्य योगसागर जी, अभय सागर जी महाराज ससंघ 10 मुनि महाराजों का मंगल पावन सानिध्य प्राप्त हुआ। प्रतिष्ठाचार्य विनय भैया, पंडित सुरेश शास्त्री, पंडित आशीष अभिषेक जैन एवं धरमवीर जैन म्यूजिकल ग्रुप भोपाल के द्वारा मधुर संगीत का गायन किया गया।

आचार्य श्री द्वारा चयनित भगवान के माता पिता बनने का परम सौभाग्य श्रीमती अनीता-तरुण सराफ को प्राप्त हुआ। महाअनुष्ठान के सबसे बड़े पात्र सौधर्म इंद्र श्रीमती सरोजरानी चंद्र कुमार सराफ को चुना गया।धनपति कुबेर जो भगवान बालक के जन्म के समय 15 माह तक बहुमूल्य रत्न वर्षा करता है बनने का अवसर श्रीमती क्षमा-अजय निरमा, शीलचंद्र जैन परिवार को मिला।

महायज्ञ नायक नशिया मंदिर के अध्यक्ष एवं बनगांव परिवार के श्रीमती चंदना-अभय, अवनीश-नीतू बने। श्रीमती सीमा-महेश जैन दिगंबर दानतीर्थ के उद्घाटक राजा श्रेयांश के पद से शोभित किए गए।

श्री मीनू जैन, विजय आयरन को राजा सौमप्रभ, महेंद्र-राजेंद्र कमर्शियल को ईशान इंद्र बनाया गया। बाहुबली का पद मुन्ना डबुल्या परिवार को तो ब्रम्हेंद्र श्री विमल लहरी के पुत्र व पुत्र-वधु श्रीमती वंदना-विवेक लहरी बने।

दिन ढलने के पूर्व तक बोलियां लगाई गई पश्चात् बिना बोली लगाये ही पात्र का चयन होता रहा। सभी महापात्रों को फलों से भरी टोकनी भेंट कर पुष्पमाला व तिलक से सम्मानित किया गया। जो पात्र रह गए उन्हें बाद में सम्मिलित किया जाएगा। हजारों भक्तों की भीड़ ने चयनित महापात्रों के सौभाग्य की सराहना करी तो पूज्य मुनि संघ के वचनाम्रत एवं आशीर्वाद से वे सभी धन्य धन्य हो गए।

इस अवसर पर कुंडलपुर कमेटी क्षेत्र के अध्यक्ष संतोष सिंघई, जैन पंचायत अध्यक्ष सुधीर सिंघई, महोत्सव अध्यक्ष राकेश सिंघई, महामंत्री विमल लहरी, अटल राजेन्द्र जैन, राकेश पलंदी, सुनील वेजिटेरियन, नरेंद्र जैन, नवीन निराला, श्रेणिक बजाज सहित अनेकों प्रमुख व्यक्तियों ने बधाइयां प्रेषित की। श्रीमती विद्यादेवी-मनीष मलैया परिवार ने पूरे अनुष्ठान में अष्ट द्रव्य दान करने की घोषणा की।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!