नाबालिग का अपहरण करने वाला धराया, पत्नि बताकर किराये से लिया था कमरा

सिवनी । नाबालिग युवती को बहला फुसलाकर अपहरण करने और उसके साथ दुष्कृत्य करने वाले दो आरोपियों को कोतवाली पुलिस ने छिंदवाड़ा से गिरफ्तार किया है। दोनों आरोपियों के विरुद्ध धारा 363, 366, 376 (एन), 34 व पाक्सो एक्ट के अंतर्गत मामला दर्ज किया गया है।

तीन दिन पहले लापता हुई थी नाबालिग
कोतवाली थाना क्षेत्र की 16 वर्षीय नाबालिग युवती 26 नवंबर को घर से अपनी सहेली के घर जाने के लिये निकली थी। उसके बाद से वह गायब हो गयी थी। परिजनों ने कोतवाली में शिकायत दर्ज करवायी थी। इसके बाद पुलिस ने नाबालिग की तलाश आरंभ की। एसपी ललित शाक्यवार व एएसपी के निर्देश पर कोतवाली टीआई अरविंद जैन ने टीम गठित कर नाबालिग को खोजने के प्रयास किये।

पत्नि बताकर किराये से लिया था कमरा  
नगर कोतवाल अरविंद जैन ने बताया कि एसआई राहुल बघेल, आरक्षक चंचलेश, महिला आरक्षक फरहीन की टीम बनाकर जाँच के लिये भेजा गया। टीम ने मुखबिर से सूचना पर छिंदवाड़ा के आनंद नगर में आरोपी छपारा थाने के बर्रा गाँव निवासी सुनील (21) पिता कुँवर लाल टेकाम को हिरासत में लिया। साथ ही उसके कब्जे से नाबालिग युवती को छुड़वाया। पूछताछ में सुनील टेकाम ने बताया कि छिंदवाड़ा में उसने मकान मालिक से नाबालिग को अपनी पत्नि बताकर कमरा किराये से लिया था।
पूछताछ में सुनील टेकाम ने बताया कि वह अपने साथी छपारा थाने के पिपरिया गाँव निवासी राजेश (20) पिता पुस्सू लाल भलावी के सहयोग से ऑटो में नाबालिग को बैठाकर चौरई तक पहुँचा। बस नहीं मिलने के कारण चौरई से वे मैजिक वाहन से नाबालिग को लेकर छिंदवाड़ा पहुँचा। यहाँ उसने युवती के साथ दुष्कृत्य किया। कोतवाली पुलिस ने सुनील और उसके साथी राजेश भलावी को गिरफ्तार कर लिया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!