टीवी के मरीजो को नही मिल रही दवा ठप्प हो गया तामिया मे टीबी युनिट का कामकाज

scn news india


नितिन दत्ता

तामिया (छिंदवाडा )– आदीवासी बहुल विकासखंड तामिया मे टीबी के रोगी लगातार बढ रहे है वही बीते साल चावलपानी क्षेत्र के 21 वर्षीय युवक की मौत के बाद भी अब सामुदायिक स्वास्थ केंद्र तामिया मे स्थित टीबी यूनिट मे कामकाज की व्यवस्था पूरी तरह ठप्प हो गयी है | टीबी यूनिट मे पदस्थ लैब टैक्निशियन की सेवा समाप्ति के एक माह बाद अब उस जगह पर टीबी जांच उपचार का काम नही हो पा रहा है | तामिया में पिछले एक माह से टीबी के मरीजों को दवाई नही मिल रही नही टीबी मरीजो की निगरानी करने वाला कोई जिम्मेदार उन मरीजो को देखने नही है| डॉट्स प्रोग्राम के तहत टीबी के मरीजों को दवाइयां प्रतिदिन लेना होता है कोई भी चूक होने से ये बीमारी गम्भीर रूप ले लेती है जिससे इस बीमारी के अन्य में फैलने का खतरा तामिया में बढ़ गया है |वर्तमान मे तामिया में लगभग 300 से 400 मरीज है| तामिया मे साप्ताहिक हाट बाजार के दिन 15 से 20 ग्रामीण इलाको मरीज पहुंचते थे औऱ एक माह की दवाई लेकर जाते थे, लेकिन अब ये भटक रहे है दवाई तो दूर इन्हें देखने वाला कोई नही है| बीएमओ डॉ विजय सिंह ने बताया कि लैब टैक्निशियन मंजू कुरोठे के नाम से बीते साल टीबी यूनिट के कामकाज को लेकर आदेश हुआ था जिसमे शुक्रवार छोडकर उन्हे काम करने के लिये निर्देशित किया गया था | लेकिन लैब टैक्निशियन मंजू ने चार्ज नही लिया वही शुक्रवार के दिन जुन्नारदेव के लैब टैक्निशियन लक्ष्मण उइके को कार्य करने के लिये आदेशित किया गया था |
पूर्व संविदा लैब टैक्निशियन की सेवा समाप्ति के बाद चरमाराई व्यवस्था – सामुदायिक स्वास्थ केंद्र मे आरएनटीसीपी के संविदा लैब टैक्निशियन आरिफ खान को एक माह पहले बीते साल विधानसभा चुनाव के दौरान आदर्श आचरण सन्हिता के उलंघ्न मामले मे सेवामुक्त करने के बाद टीबी यूनिट के मरीजो के लिये कोई व्यवस्था नही बन सकी है| सबसे चौंकाने वाली बात यह कि टीबी यूनिट के कर्मचारी को नौकरी से निकालने मे जिला प्रशासन ने जल्दबाजी तो दिखाई लेकिन तामिया मे टीबी रोगियो के लिये उचित व्यवस्था नही बनाई| वही अपडाउनर लैब टैक्निशियन के भरोसे सबसे ज्यादा टीबी के पुराने मरीजो को निगरानी मे रखकर डॉटस प्रोग्राम के तहत दवा खिलाने का काम ठप्प हो गया ऐसे मे अब टीबी के पुराने रोगियो मे फिर से समस्या बढ रही है| तामिया में बीते सालो से नवंबर तक टीबी यूनिट का कामकाज पूर्व पदस्थ रहे लैब टैक्निशियन श्री खान के भरोसे जारी था अब वही कामकाज ठप्प हो गया है |
ठप्प हो गया टीबी यूनिट का कामकाज – स्वास्थ विभाग लगातार टीवी के मरीज को चिन्हित करने मुहिम प्रभावित हो गयी है | वर्तमान मे मुतौर इटावा देलाखारी छिंदी नागरी सेक्टर मे टीवी के मरिजो की संख्या बढी है जिनकी खखार जांच कुछ सक्रिय आशा कार्यकर्तायो की जागरूकता के कारण यह जानकारी दो साल पहले सामने आयी है | सामुदायिक स्वास्थ केंद्र मे तत्कालीन आरएनटीसीपी के लैब टैक्निशियन आरिफ खान के कार्यकाल में 2016 मे टीबी के मरीज तामिया मे बढे थे बताया कि देलाखारी मे सबसे अधिक टीवी के मरीज सामने आये थे |
जागरुकता के अभाव मे बढ रहा है संक्रामक रोग – पहले तामिया डीएमसीसी (डेजिक्नेटेड माइक्रोस्कोपिक सेंटर ) के लक्ष्य से अधिक थे बीते साल में अभी तक कई टीवी के मरीज आ चुके है | ग्रामीण इलाको मे मौसम के साथ साथ खानपान नशा इस बीमारी बढने का सबसे बडा कारण है | जागरूकता के अभाव यह संक्रामक रोग दिनोदिन बढ रहा है | तामिया मे रिवाईज नेशनल ट्यूबरक्लोसिस कंट्रोल प्रोग्राम के तहत यूनिट स्थापित है | तामिया के देलाखारी छिंदी नागरी चावलपानी पातालकोट क्षेत्र में भी टीवी के मरीज बढे है वही यह संख्या जागरूकता का अभाव के बढ रही है | |
टीबी रोगी की निगरानी कर दी जाती है दवा – उपचार के दौरान स्वास्थ विभाग चिन्हित मरीजो की पूरी निगरानी रखता है मरीज के उपचार के दौरान उनका फालोअप लिया जाता है | टीवी के मरीजो तीन श्रेणीयो मे विभाजीत किया गया जिसके अनुसार उपचार होता है | वही मरिजो के इलाज के बाद उन्हे आठ श्रेणीयो मे बांट कर आउट्कम दिया जाता है| ग्रामीण इलाको में मरीजो की लापरवाही से भी रोग बढ रहा है शासन सरकारी अस्पतालो मे टीवी के मरीजो को केटेगिरी वन मे 80 हजार तथा 2 मे लगभग 1 लाख 20 हजार की दवाये उपलब्द्ध कराता है जो पूर्ण रूप से मरीज को निशुल्क दी जाती है| लेकिन अब मरीजो को इसका लाभ नही मिल पा रहा है |
इनका कहना है
मै अवकाश मे हू इस सबंध पर पता करवाता हू एक माह से कामकाज कैसे प्रभावित हुआ है |
डॉ. जीएस दुबे, डीटीओ छिंदवाड़ा,

टीबी यूनिट मे पदस्थ लैब टैक्निशियन की सेवा समाप्ति के बाद से एक से टीबी सबंधित जांच दवा वितरण काम प्रभावित हुआ है इसकी जानकारी वरिष्ठ अधिकारियो को दी गयी है | शुक्रवार के दिन टीबी यूनिट का काम जुन्नारदेव के लैब टैक्निशियन को दिया गया है|
डॉ विजय सिंह बीएमओ सामुदायिक स्वास्थ केंद्र तामिया

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!