जनसुनवाई में ग्यारह आवेदनों पर हुई सुनवाई, पेंशन प्रकरण का मौके पर हुआ निराकरण

scn news india

प्रद्युमन फौजदार 
बड़ामलहरा।एसडीएम एनआर गौड़ की अध्यक्षता में आज मंगलवार को बीआरजीएफ भवन में आयोजित साप्ताहिक जनसुनवाई में ग्यारह आवेदनों पर सुनवाई हुई जिसमें एक सामाजिक सुरक्षा पेंशन प्रकरण का मौके पर ही निराकरण किया गया।
जनसुनवाई के प्रारम्भ में गत जनसुनवाई में पंजीकृत प्रकरणों पर हुई कार्यवाही पर प्रकाश डाला गया ।आज हुई जनसुनवाई में ग्यारह प्रकरण पंजीबद्ध किए गये जिसमें जनपद पंचायत से संबंधित चार राजस्व के तीन, खाद्य विभाग से संबंधित दो,पुलिस एवं शिक्षा विभाग के एक -एक आवेदन पंजीकृत किए गये ।
जनसुनवाई में पहुंचकर धनगुवां निवासी कन्हैया लाल प्रजापति ने आवेदन दिया कि उसकी पेंशन दो माह से बन्द हैं जिस पर एसडीएम ने तुरन्त ही कार्यवाही हेतु कहा। पड़ताल से ज्ञात हुआ कि बैंक मैं खाता बन्द होने के चलते पेंशन राशि खाते में नहीं पहुंच रही है जिस पर तुरंत ही खाता संचालित करवा कर राशि डालने का आश्वासन दिया गया।
इसी तरह सड़वा निवासी दोनो पैरों से विकलांग महिला फूलाबाई कुशवाहा ने ट्राई साईकिल एवं आवास की मांग से संबंधित आवेदन दिया ।परीक्षण के बाद महिला को ट्राई साईकिल उपलब्ध करवाने का आश्वासन दिया।
जन सुनवाई में एसडीएम एनआर गौड़ के अलावा तहसीलदार के.के.गुप्ता घुवारा तहसीलदार त्रिलोक सिंह पूसाम,जनपद पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी अजय सिंह, परियोजना अधिकारी महिला बाल बिकास डा.एकता गुप्ता, जे.पी.प्रभाकर,पंचायत निरीक्षक जे.पी.प्रजापति,डिप्टी रेंजर अजय मिश्रा, एवं अन्य संबंधित विभागों के प्रतिनिधि मौजूद रहे आशा एवं सहयोगनी कार्यकर्ताओं ने सौपा ज्ञापन
आशा एवं सहयोगनी कार्यकर्ता संघ की अध्यक्ष श्रीमती श्रद्धा बुन्देला के नेतृत्व में जनसुनवाई में पहुंच कर मुख्यमंत्री को संबोधित बारह सूत्रीय मांगों से संबंधित ज्ञापन एसडीएम एनआर गौड़ को सौंपा जिसमें मुख्य रूप से आशा एवं सहयोगनी कार्यकर्ताओं को प्रोत्साहन एवं मानदेय के स्थान पर वेतन दिये जाने ।आशा कार्यकर्ताओं को अठारह हजार तथा सहयोगनी को चौबीस हजार रुपया वेतन दिये जाने साथ ही कार्य के दौरान दुर्घटना होने पर पांच लाख का मुआवजा देने के साथ ही रिटायर्टमेन्ट बेनिफिट के रूप में एक मुश्त पांच लाख रुपये दिये जाए। एएनएम का कार्य आशा सहयोगनियों से कराया जाता हैं जो सर्वथा अनुचित हैं जिसे रोका जाना चाहिए। आशा कार्यकर्ताओं को प्रतिमाह भुगतान नहीं किया जाता साफ्टवेयर खराब होने का बहाना बनाकर परेशान किया जाता हैं प्रतिमाह भुगतान करवाया जाए आदि प्रमुख हैं ।एसडीएम ने उचित कार्यवाही एवं शासन स्तर पर ज्ञापन पहुंचाने की बात कही।इस मौके पर भारी संख्या में आशा कार्यकर्ता एवं सहयोगनी मौजूद रही ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!