क्लस्टर की ग्राम पंचायतों में हर हफ्ते पहुंचेंगे जिलाधिकारी जरूरतमंदों तक उचित मदद पहुंचाने के होंगे प्रयास

scn news india


बैतूल,
कलेक्टर श्री तेजस्वी एस. नायक ने जिला स्तर के अधिकारियों को ग्रामीण क्षेत्रों से रूबरू होने, वहां जरूरतरमंदों को आवश्यक शासकीय सहायता पहुंचाने एवं जन समस्याओं के निराकरण की उचित पहल करने के लिए क्लस्टर प्रभारी अधिकारी व्यवस्था लागू की है। व्यवस्था के तहत प्रत्येक अधिकारी को एक-एक क्लस्टर आवंटित किया गया है। एक क्लस्टर में 9 से 10 ग्राम पंचायतें शामिल होगीं।
जिला अधिकारियों का दायित्व होगा कि वे सप्ताह के एक दिन अपने क्लस्टर की ग्राम पंचायतों में भ्रमण करेंगे। वहां पदस्थ मैदानी कर्मचारियों से जीवंत सम्पर्क बनाएंगे तथा उस क्षेत्र की सामान्य परिस्थितियों से रूबरू होंगे। कलेक्टर द्वारा क्लस्टर स्तर पर अधिकारियों को काम करने का टॉपिक आवंटित किए जाएंगे, जिनमें क्षेत्र में सम्पूर्ण टीकाकरण, कुपोषण की समस्या से निजात, सभी बच्चों का स्कूलों में प्रवेश, दिव्यांगों को समुचित सहायता इत्यादि शामिल होंगे। अधिकारियों को आवंटित क्षेत्र में निर्धारित टॉपिक पर तो कार्य करना ही होगा, इसके अलावा उस क्षेत्र में यह ध्यान देना होगा कि स्वास्थ्य, शिक्षा, नि:शक्त कल्याण अथवा अन्य सामाजिक सहायता से कोई व्यक्ति वंचित तो नहीं है। यदि किसी व्यक्ति को किसी योजना से सहायता की जरूरत है तो अधिकारी संबंधित विभाग से पहल कर जरूरतमंद व्यक्ति को उक्त सहायता उपलब्ध कराएंगे। इसके अलावा जन समस्याओं के निराकरण पर भी अधिकारियों द्वारा जोर दिया जाएगा। खासतौर पर जनसुनवाई में आने वाले प्रकरणों का संबंधित विभाग से समन्वय स्थापित कर क्लस्टर प्रभारी अधिकारी निराकरण करवाएंगे। सोमवार को आयोजित समयावधि पत्रों की समीक्षा बैठक में क्लस्टर प्रभारी की भूमिका की जानकारी देते हुए जिला स्तरीय अधिकारियों को क्लस्टर भी आवंटित किए। इस दौरान अपर कलेक्टर श्री साकेत मालवीय एवं सीईओ जिला पंचायत श्री एमएल त्यागी भी मौजूद थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!