उड़नदस्ते की टीम ने जबदस्ती दबाब बनाकर की कार्यवाही , गलत आंकलन कर 1 लाख 5 हजार लगा दी पेनाल्टी

scn news india

नितिन दत्ता तामिया 
तामिया – गुरूवार शाम चार बजे मुख्यमार्ग पर स्थित विधुत विभाग के उड़नदस्ते द्वारा की अंकिता रेस्टोरेंट में ओव्हरलोड का प्रकरण बनाकर की गई कार्यवाही विवादों में आ गई है ।अंकिता रेस्टोरेंट के संचालक अर्पित जायसवाल ने बताया कि उनके कर्मचारियो की सूचना मिली की उड़नदस्ते के अधिकारी श्री इनवाती ने रेस्टोरेंट में कर्मचारियो को धमका कर मोबाइल छुड़ा लिया उसके बाद गलत तरीके के ओव्हारलोड का प्रकरण बनाया कही पंचनामा में मालिक की अनुपस्थिति में कर्मचारियो से जबरन हस्त्ताक्षर कराये। वहां से जाने के बाद रेस्टोरेंट मालिक को सूचना मिली। इस संबंध में अर्पित जायसवाल ने बताया कि उड़नदस्ते की टीम ने गुंडागर्दी कर कर्मचारियो पर दबाब बनाकर पंचनामा में हस्ताक्षर कराने के बाद 13 किलोवाट का प्रकरण बनाकर 1 लाख 5 हजार का जुर्माने का फरमान दिया। निकट के मुताबिक 7 किलोवाट स्वीकृत भार ही थी गलत आंकलन कर प्रकरण बना दिया । अर्पित जायसवाल ने बताया कि गलत आंकलन की बात बताये जाने के बाद संपर्क करने पर उड़नदस्ते के अधिकारी श्री इनवाती ने स्वीकार किया आंकलन गलत हुआ है लेकिन लिखित में कुछ नहीं दिया वही उनकी आपत्ति भी पंचनामे में दर्ज नहीं की गई। रेस्टोरेंट मालिक अर्पित जायसवाल ने कार्यवाही का विरोध जताने के बाद पूर्वी क्षेत्र के चीफ इंजीनियर तथा विधुत उपभौक्ता फोरम को शिकायत भेजी है वही अंकिता रेस्टोरेंट के कर्मचारियों ने भी स्थानीय थाने में शिकायत की है । इस संबंध में प्रयास के बाद भी विधुत विभाग के उड़नदस्ते के अधिकारी श्री इनवाती तथा विधुत विभाग के एसई से संपर्क नहीं हो सका।
अर्पित जायसवाल ने बताया कि उन्हें पंचनामे की कॉपी प्रिंटर खरांब होने का बताकर नहीं दी गई

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!