अपराधियों के हौसले बुलंद, युवक की गोली मारकर हत्या

scn news india

मोहम्मद आज़ाद 

पन्ना-अजयगढ़ में युवक की गोली मारकर हत्या से सनसनी फ़ैल गई।  बीती  रात  एक 40 वर्षीय युवक रतन लाल साहू पिता कलकाई साहू निवासी अजयगढ़ को अजयगढ़ के नजदीक चोरयाई की भाठिया सोसायटी के पीछे अज्ञात हमलावरों ने गोली मारकर मौत के घाट उतार दिया। हत्या का कारण एवं हत्यारे अभी हाल अज्ञात बताए जा रहे हैं।

 

दो दिन पहले ही पन्ना में कोतवाली से चंद कदमो की दूरी पर कलेक्टर निवास के पीछे की पहाड़ी में एक 25 वर्षीय युवक इरफान खान की अज्ञात लोगों द्वारा पत्थर से कुचल कर हत्या कर दी गई थी परंतु आरोपी अभी भी पुलिस की पहुंच से दूर हैं।

वहीँ  सलेहा थाना क्षेत्र के ग्राम पल्हरी में 11 वर्षीय मासूम बालिका मोना बाई को स्थानीय युवकों ने हंसिया से गर्दन काटकर मौत के घाट उतार कर उसकी मां कुंवर बाई को बुरी तरह जख्मी कर दिया था जो अभी भी जिंदगी और मौत से जूझ रही है।

जिले में बीते कुछ दिनों से अपराधियों के दिलों से पुलिस का खौफ मिटने सा लगा है। खुलेआम हत्याओं एवं हमलों सहित चोरियों एवं तस्करी के मामले अचानक बढ़ते प्रतीत हो रहे हैं। अपराधिक गतिविधियों में बढ़ोतरी का कारण पुलिस का ढुलमुल रवैया ही बताया जा रहा है। बीते कुछ दिनों के मामलों पर निगाह डाली जाए तो हत्याओं को अंजाम देने वाले अपरोपी खुलेआम घूम रहे हैं। पुलिस इनकी धरपकड़ के बजाय चुनावी व्यस्तता की आड़ में हाथ पर हाथ धरे बैठी है। ऐसी ही लापरवाही के चलते अजयगढ़ जैसे कस्बे में भी अपराधियों की हौसले बुलंद हैं जिसका जीता जागता उदाहरण 6 और 7 मई 2019 यहां भी पुलिस का जो रवैया देखने को मिला उससे कहीं ना कहीं खाकी के दामन में बदनामी के दाग लगे हैं।

कुछ लोगों के भ्रष्ट कारनामे से समूचे विभाग को बदनाम होना पड़ता है। यहां थाना पुलिस को आरोपियों का बचाव करते देखा जा रहा है। इसी प्रकार बीते कुछ दिनों से आदतन अपराधियों एवं दबंगों के हौसले इतने बुलंद देखे जा रहे हैं। कि किसी पर भी जानलेवा हमला कर देते हैं। पुलिस अपराधियों को सींखचों के पीछे पहुंचाने के बजाय फरियादियों को बयान बदलने एवं राजीनामा के लिए दबाव बनाते देखे जा रहे हैं। वरिष्ठ अधिकारियों से शिकायत पर दुत्कार और बदसलूकी के अलावा कुछ भी हासिल नहीं होता देख एक पीड़ित परिवार इच्छा मृत्यु की अनुमति मांगने को मजबूर हो गया था अतः समाचार पत्र के माध्यम से पुलिस अधीक्षक मयंक अवस्थी एवं जिला कलेक्टर मनोज खत्री से ऐसे मामलों को गंभीरता से लेते हुए सख्त कार्रवाई की अपेक्षा की जाती है। ताकि अपराधियों के दिल में पुलिस का खौफ बना रहे एवं आम नागरिक शांतिपूर्ण ढंग से रहते हुए उनके दिल में प्रशासन के प्रति विश्वास कायम रहे। साथ ही शांति का टापू कहे जाने वाले पन्ना जिले में शांति कायम रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!