अपडेट – आग का तांडव – प्रशासनिक अमला पंहुचा , पीड़ितों से मिल लिया नुकसान जायजा

scn news india

मनीष मालवीय जिला ब्यूरों होशंगाबाद 

होशंगाबाद –  जिले में अप्रैल माह से अब तक कई स्थानों पर खेत व खलिहान में आग लगने से सैकड़ों एकड़ फसल जलकर राख हो गई। आखिर इसका जिम्मेदार कौन है। यह सवाल बड़ा है। खेत व खलिहान में आग लगने का कारण कौन है और किसकी गलतियों की सजा किसान और उसके परिवार को भुगतनी पड़ेगी है। शासन अपनी जिम्मेदारी लेने से रहा लेकिन सच्चाई यही है कि उन्हीं खेत व खलिहान में किसान की मेहनत मैं आग लगी है जहां प्रशासन के नियमों को शक्ति से पालन नहीं किया। कुछ किसान अपने कुछ फायदे के लिए अपने खेतों की नरवाई में आग लगा दे हैं आपस में सटे खेतों में छोटी सी एक चिन्गारी ने कहर बरपा दिया। धू-धू खेत जलने लगा तो सूचना अग्निशमन दस्ते को दी गई। दमकल पहुंचा लेकिन आग बुझाने के लिए पानी ही नहीं मिला। तब तक कई एकड़ की फसल राख हो गई। किसान के खून व पसीने से सींच कर तैयार फसल देखते ही देखते राख में तब्दील हो गई। आग से बर्बाद हुए किसान की आस फसल बीमा पर टीक जाती है। ऊंट के मुंह में जीरा की तरह मिलने वाले इस फायदे को भी लोग डकार जा रहे। एक तो किसानों को फसल बीमा का लाभ पाने के लिए इतना पापड़ बेलना पड़ता है कि वह बीच में ही टूट जाते हैं और इस योजना से हाथ धो बैठते हैं।

दुर्घटना बीमा के तर्ज पर मिले लाभ : अन्नदाता देश की रीढ़ है। उनकी बर्बादी यानि देख की बर्बादी। किसानों ने दुर्घटना बीमा के तर्ज पर ही फसल बीमा का लाभ दिलाए जाने की मांग की है। उनका कहना है कि जिस तरीके से आकाशीय बिजली से किसी की मौत होती है और शव के पोस्टमार्टम से पहले ही सरकार पीड़ित परिवार को चेक थमा देती है उसी तरह किसानों की फसल राख होने पर भरपाई करनी चाहिए।

हुई जान माल की हानि

  • फसल की आग बनी जानलेवा
  • ग्रामीण क्षेत्रों में आग का कहर, 3 की मौत, 14 लोग अधिक आग में झुलसे
  • पीड़ितों में 2 बच्ची, 2 महिला शामिल,1 भोपाल रेफर
  • होशंगाबाद, इटारसी, बाबई की 5 हजार एकड़ फसल जलने की आशंका।
  • रोड पर एक ट्रक और एक बाइक मैं आग लग गई
  • जिला अस्पताल में पीड़ितों के लिए देवदूत बने पुलिसकर्मी और अस्पताल अमला।
  • जिला अस्पताल की व्यवस्थाएं सीमित, एडीएम, एएसपी, जिंप सीईओ पहुचे अस्पताल।

आज सुबह से ही तहसील इटारसी के आसपास के गांवों में खेतों की आग से हुए नुकसान के सर्वे कर पीड़ितों के नुकसान की जानकारी विभाग द्वारा एकत्र की जा रही है

  • होशंगाबाद विधायक डॉ सीतासरन शर्मा कई घायलों को लेकर जिला अस्पताल लाए।
  • होशंगाबाद नरसिंहपुर सांसद राव उदय प्रताप पहुंचे थे पीड़ित से मुलाकात करना
  • पूर्व केंद्रीय मंत्री सुरेश पचौरी ने होशंगाबाद सरकारी अस्पताल व नर्मदा अस्पताल पहुंच कर पीड़ितों मुलाकात ग्राम पांजरा कला पहुँच कर जायजा लिया।
  • सोहागपुर विधायक विजयपाल सिंह होशंगाबाद नर्मदा अस्पताल में मरीजों के हालचाल जानने पहुंचे
  •  होशंगाबाद कांग्रेस प्रत्याशी दीवान शैलेंद्र सिंह भी पहुंचे पीड़ितों से मिलने

सूत्रों के हवाले से

  •  आज पहुंच सकते हैं पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान करने पीड़ित परिवारों सेे मुलाकात।
  • कल पहुंच सकते हैं मुख्यमंत्री कमलनाथ होशंगाबाद पीड़ितों से करने मुलाकात करने

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!