अदभुत पंचकल्याणक महोत्सव की घट यात्रा

scn news india

मालथौन तहसील से शैलेंद्र सेन की रिपोर्ट 
सर्वश्रेष्ठ साधक आचार्य श्री विद्यासागर जी महाराज के शिष्य मुनि श्री विमल सागर जी मुनि श्री अनंत सागर जी मुनि धर्मसागर जी मुनि श्री अचल सागर जी मुनि श्री भाव सागर जी ससंघ सानिंध्य मे एबं प्रतिष्टाचार्य बाल ब्रह्मचारी श्री पार्श्वनाथ दिगम्बर जैन मंदिर बरोदिया के हाई सेकंडरी प्ले ग्राउंड में 30 जनवरी से 4 फरवरी 2019 तक होने वाले पंचकल्याणक महोत्सव की घट यात्रा सभा को संबोधित करते हुए मुनि श्री विमल सागर जी ने कहा कि ऐसा कोई स्थान नहीं जहां जन्म नहीं लिया हो। अच्छे कार्य करने से कल्याण जल्दी होता है । यहां जिनालय अच्छा बनवाकर अच्छा काम किया है । जिनके दर्शन से कठिन से कठिन कर्म भी नष्ट हो जाते हैं। पंचकल्याणक से अंदर का अंधकार का नाश होता है। धन का सदुपयोग होता है ।ऐसा श्रेष्ठ कार्य कर रहे हैं पंचम काल के अंत तक ऐसे कार्य होते रहेंगे आप लोगों को विशुद्धि बढ़ाना है पंचकल्याणक से सुख समृद्धि में वृद्धि होती है आज की घटयात्रा में महिलाएं कलश लेकर चल रही थी लोग नृत्य करते हुए चल रहे थे सभी सभी क्षेत्रवासी एवं ग्रामवासी इस यात्रा में शामिल रहे।

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!